Breaking News

इंडियन स्वच्छता लीग रैली के जरिये दिया गया प्रदेश में स्वच्छता का संदेश

लखनऊ। प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ए. के. शर्मा . के नेतृत्व में आज 1090 चौराहे से लालबाग चौराहा तक स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत शहरांे को स्वच्छ बनाने एवं जनजागरूकता के लिए ‘इंडियन स्वच्छता लीग‘ महारैली निकाली गई और प्रदेश को स्वच्छ बनाने का संदेश दिया गया।
इस दौरान 1090 चौराहे पर हुए कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि रैली को संबोधित करते हुए नगर विकास मंत्री ने हजारों की संख्या में सुबह से उपस्थित युवाओं, नगरवासियों, सफाई कर्मियों का उत्साहवर्धन करते हुए धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन के बाद यह पहला मौका है कि इतनी बड़ी संख्या में स्वच्छता के प्रति चलाए जा रहे आंदोलन में सभी लोग भागीदारी कर रहे हैं। उन्होंने स्वच्छता का संकल्प दिलाते हुए कहा कि प्रदेश को स्वच्छ बनाने के इस उत्साह में कमी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गॉव से शहर की ओर लोग रोजी रोटी एवं रोजगार की तलाश में आते है और जिस शहर में जा कर वे बसते है। उसे अपने सपनो का शहर बनाने की कोशिश करते है। हम सब लखनऊ में रहते है। हमारा दायित्व लखनऊ को स्वच्छ बनाना है। कहा कि साफ सफाई, स्वच्छता हमारे समाजिक जीवन का अभिन्न अंग है। स्वच्छता हमारे लिए बहुत आवयश्क कार्य है। इसको बनाये रखने के लिए युवाओं को आगे आना होगा। नगर विकास मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि देश के माननीय प्रधानमंत्री के जन्मदिन को प्रदेश सरकार 17 सितंबर से 2 अक्टूबर, तक सेवा पखवाड़ा के रूप में मना रही है। इसी क्रम में प्रदेश के सभी शहरों व कस्बों को साफ सुथरा एवं स्वच्छ बनाने के लिए सभी नगरीय निकायों में स्वच्छता पखवाड़ा मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 17 सितंबर को प्रधानमंत्री के 72वंे जन्मदिन के अवसर पर सभी निकाय अधिकारियों को पंचामृत कार्यक्रम के लक्ष्य के साथ शहरों को स्वच्छ बनाने का संकल्प दिलाया गया था। पंचामृत के संकल्प को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि पहला संकल्प सभी निकायों की प्रातः काल 05 बजे से देनिक साफ सफाई करना है। इस बार शहरों व कस्बों की प्रत्येक गली एवम् मोहल्लों की भी सफाई सुनिश्चित करना है। दूसरा संकल्प कूड़ा स्थलों को शहर से हटाना है। गार्बेज पॉइंट शहर में न रहे, जिससे शहर की हवा स्वच्छ व प्रदूषण मुक्त हो सके। तीसरा संकल्प शहरों के गंदे स्थानों की साफ सफाई करवाना वहा पार्क उद्यान बनाना है। वृक्षारोपण कराना है, जिससे शहरवासियों को ऐसे स्थानों पर दो पल का सुकून मिल सके। चौथा संकल्प सभी चौराहों का सौंदर्यीकरण कराना है। चौराहे किसी भी शहर के आईना होते हैं। बाहरी व्यक्ति चौराहे को देखकर ही प्रदेश के बारे में धारणा बनाता है। चौराहों से सभी अस्त-व्यस्त, फटी पुरानी सामग्री, होर्डिंग व तारों के मकड़जाल को हटाना है। पांचवां शहरों के वाटर बॉडीज, तालाबों का पुनरुद्धार करना है। इनको विकसित कर शहरवासियों के लिए उपयोगी बनाना है। नगर विकास मंत्री ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं प्रधानमंत्री के सपनों का देश हम सभी को मिलकर बनाना है। इसको साफ सुथरा, स्वच्छ बनाने का हम सभी संकल्प लें, जहां कहीं भी गंदगी दिखे, हमें स्वयं भी इसे साफ करने का प्रयास करना है तभी हमारा प्रदेश राज्य की राजधानी लखनऊ स्वच्छता के मामले में नंबर एक पायदान पर होगा। लखनऊ शहर देश में स्वच्छता के मामले में अभी 12वें स्थान पर है। उन्होंने इस मौके पर निकाय अधिकारियों को निर्देशित किया है कि शहरों व कस्बों के सभी हजारांे गार्वेज पॉइंट को हटाना है। लखनऊ शहर में अभी भी लगभग 110 गार्बेज प्वाइंट हैं, इन्हें भी हटाना है।

Check Also

दुग्ध संघों के सुदृढ़ीकरण के लिए 13.33 करोड़ रूपये जारी

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)। उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में डेयरी विकास के लिए दुग्ध संघों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *