Breaking News

आपका सोशल मीडिया प्रेम पड़ सकता है भारी, साइबर ठगों के राडार पर हैं आप

नई दिल्ली। सोशल मीडिया साइट्स आज युवाओं के बीच बेहद लोकप्रिय हैं. इसके साथ साइबर अपराधी भी इन पर नजर रखते हैं और फ्रॉड करने के लिए इनका इस्तेमाल करते हैं. यह देखा गया है कि पीड़ित लोगों को अपने मोबाइल या इंटरनेट पर अलग-अलग तरह की फेस्टिव थीम, गेम, ऐप्स या लिंक उनके फेसबुक, ट्विटर या व्हाट्सऐप पर मिलते हैं.
जब एक बार आप लिंक पर क्लिक या ऐप या सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करते हैं, तो आपके कंप्यूटर पर एक फर्जी ब्राउजर एक्सटेंशन डाउनलोड हो जाता है, जो यूजर की एक्टिविटी को मॉनिटर करता है और अपराधी को उसकी पर्सनल डिटेल्स पहुंचाता है. आइए जानते हैं कि फेसबुक और व्हाट्सऐप का इस्तेमाल करते समय आपको बैंक फ्रॉड से बचने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए.

फेसबुक सेफ्टी टिप्स

अपनी निजी जानकारी को अपनी फेसबुक प्रोफाइल पर न डालें. आपके घर का पता, फोन नंबर, जन्म की तारीख तुरंत लोगों के बीच सार्वजनिक हो जाते हैं.
सभी लोगों की फ्रेंड रिक्वेस्ट को मंजूर नहीं करें. हर फ्रेंड रिक्वेस्ट सही नहीं होती है. अगर आप व्यक्ति को नहीं जानते हैं, तो फिर उन्हें अपनी फ्रेंड लिस्ट में ऐड नहीं करें.
कभी भी अपने कंप्यूटर को फेसबुक अकाउंट खोलकर न छोडक़र जाएं. अपने फेसबुक अकाउंट के एक्सेस को छोडऩा आपके वॉलेट या मोबाइल फोन को कहीं छोडक़र जाने के बराबर है.
अपने कंप्यूटर पर वायरस सॉफ्टवेयर को रखना और उसे अपडेट करना बेहद जरूरी है. ऐसे कुछ वायरस हैं, जो आपके ईमेल को अटैक कर सकते हैं.
कई बार यूजर्स को सर्वे के पेज पर ले जाया जाता है और उनसे उनकी डिटेल्स जैसे नाम, जन्म की तारीख, मोबाइल नंबर आदि के बारे में पूछा जाता है. इससे बचना बेहद जरूरी है.
इसके अलावा कभी भी अपने कार्ड नंबर, सीवीवी, पिन, ओटीपी, इंटरनेट बैंकिंग यूजर आईडी, यूनिक रजिस्ट्रेशन नंबर को किसी व्यक्ति के साथ शेयर नहीं करें.

व्हाट्सऐप सेफ्टी टिप्स

अगर कोई अनजान व्यक्ति यह दावा करता है कि आपका करीबी मुश्किल में है, तो हमेशा उन्हें सीधे लैंडलाइन या किसी अलग नंबर पर कॉल करके कन्फर्म कर लें.
जब आप फोन को बेचते या नष्ट करते हैं, तो फोन पर डेटा को डिलीट कर दें और फैक्ट्री सेटिंग्स को रिस्टोर कर दें.
व्हाट्सऐप के जरिए कभी भी अपनी निजी जानकारी जैसे बैंक अकाउंट डिटेल्स, पिन या पासवर्ड को शेयर नहीं करें.
किसी अनजान व्यक्ति या अज्ञात नंबर से मिले मैसेज में दी गई फाइल को मंजूर नहीं करें और डाउनलोड न करें.
अज्ञात नंबरों से आए मैसेज का जवाब नहीं दें.
व्हाट्सऐप सर्विस आपको कभी भी मैसेज के जरिए संपर्क नहीं करेंगे. व्हाट्सऐप से आने वाले किसी भी मैसेज पर भरोसा न करें और सर्विस के लिए कुछ पेमेंट की डिमांड करें.

Check Also

डीपफेक केस में एफआईआर हुई दर्ज, रश्मिका मंदाना से जुड़ा है मामला

नई दिल्ली। साउथ एक्ट्रेस रश्मिका मंदाना के डीपफेक वीडियो मामले में दिल्ली पुलिस ने एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *