Breaking News

हजरत गंज स्थित होटल में लगी भीषण आग, 4 की मौत, घायलों का इलाज जारी

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के हजरतगंज इलाके में होटल लेवाना में भीषण आग लग गई। बताया जा रहा है कि आग की चपेट में आने के बाद मृतकों की संख्या बढ़ गयी है, जानकारी के अनुसार इस अग्निकांड में अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 18 लोग घायल हो गये, वहीं सात लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुयी है। इन लोगों को उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं फायर ब्रिगेड के 12-14 वाहन आग को नियंत्रित करने के प्रयास में लगी हुई हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस घटना का संज्ञान लिया है। इसके साथ ही देश के रक्षा मंत्री लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने भी घटना पर दुख जताया है।

सुबह के वक्त होटल लेवाना में लगी भीषण आग से आस पास अफरातफरी का माहौल बन गया, होटल के अंदर फंसे लोग अपनी जान बचाने के लिए इधर उधर भागने लगे। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। होटल की दूसरी और तीसरी मंजिल पर आग लगने के बाद और बढ़ने लगी। होटल के अंदर चारों ओर धुआं ही धुआं फैलने लगा, जिससे वहां उपस्थित लोगों का दम भी घुटने लगा। इस अग्निकांड में दो लोगों की मौत भी हो गयी जिसमें एक पुरूष और एक महिला बतायी जा रही है। पुलिस और फायर ब्रिगेड के जवानों ने होटल के अंदर फंसे लोगों को निकालने के लिए बहुत चुस्ती फुर्ती दिखाई। वहीं आग से झुलसे लोगों को इलाज के लिए पास के सीविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। लोगों को बचाने के प्रयास में फायर बिग्रेड के कुछ जवान भी जख्मी हो गये। होटल के अंदर रूके लोगों किसी तरह निकल के जान बचाई उन्होंने बताया कि हम जब सुबह उठे तो कमरे में धुआं भरा था,  फायर ब्रिगेड की टीम ने सीढ़ी से होटल से बाहर निकाला। आपातकालीन गेट तत्काल नहीं खुला जिसके कारण राहत कार्य में काफी दिक्कतें आईं। आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। वहीं लखनऊ के डीएम सूर्यपाल गंगवार ने बताया कि संभावना है कि शार्ट सर्किट की वजह से आग लगी हो। होटल के पहले तल पर बैंक्वेट है। जहां ज्यादा लोग थे। यहां पर 35-40 लोग रहे होंगे, जिनको सिविल अस्पताल भेजा गया है। उन्होंने बताया कि होटल के सामने के वहां पर रास्ते को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है और 15 दमकल गाडिय़ां मौके पर पहुंची हैं। यहां पर राहत कार्य में लगे फायर कर्मियों का कहना है आग कंट्रोल है लेकिन अभी बुझी नहीं है। आग बुझाने का प्रयास जारी है। पहले तीसरी मंजिल की आग बुझाई गई है। वहीं सीएमओ डा. मनोज अग्रवाल ने बताया कि घायलों के के लिए 13 एम्बुलेंस लगा दी गई हैं। सिविल अस्पताल में भर्ती नौ लोग गंभीर है। बताया जा रहा है कि आग की चपेट में आने के बाद मृतकों की संख्या बढ़ गयी है, जानकारी के अनुसार इस अग्निकांड में अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है।

जब आग लगी तब कुछ लोग कमरों में ही थे

होटल लेवाना में सुबह करीब 7.30 बजे कमरों में धुआं भरने लगा। इस दौरान होटल के कुछ कमरों में लोग सो ही रहे थे, आग लगने की जानकारी स्टाफ को सुबह आठ बजे के आस पास हुयी। आस पास मौजूद लोगों ने बताया कि कई लोग खुद ही खिड़कियां तोड़कर बाहर आये। लखनऊ कमिश्नर एस बी शिरोड़कर ने बताया कि होटल प्रबंधन के रिकॉर्ड के अनुसार 38 से 40 लोग वहां पर रुके हुए थे जिसमें से पुलिस विभाग के अनुसार 10 लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया है। जिसमें से दो लोगों की दुखद मौत हो गई जबकि सात लोग अभी अस्पताल में भर्ती हैं। एक व्यक्ति को डिस्चार्ज किया गया है। होटल के कमरों में धुआं ज्यादा होने के कारण अभी तक कितने लोग अंदर फंसे हैं। इसकी जानकारी नहीं हो पा रही है। पुलिस कमिश्नर व मंडला आयुक्त को जांच के निर्देश दिए गए हैं। जांच के उपरांत कार्रवाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान, घायलों से मिलने पहुंचे
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के होटल लेवाना में लगी आग का संज्ञान लिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मामले की जानकारी पर खुद अस्पताल पहुंचे और घायलों का हालचाल लिया और पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने अफसरों को राहत व बचाव कार्य तेज करने व घायलों को समुचित इलाज उपलब्ध कराने का निर्देश दिये हैं।

रक्षा मंत्री ने किया ट्वीट

रक्षा मंत्री व लखनऊ सांसद राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा कि लखनऊ के एक होटल में आग लगने की दुखद घटना की मुझे जानकारी प्राप्त हुई। स्थानीय प्रशासन से मैंने स्थिति की जानकारी ली है। उन्होंने कहा कि राहत और बचाव कार्य जारी है। मेरा कार्यालय लगातार स्थानीय प्रशासन के सम्पर्क में है। मैं घटना में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की ईश्वर से कामना करता हूं।

Check Also

दुग्ध संघों के सुदृढ़ीकरण के लिए 13.33 करोड़ रूपये जारी

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)। उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में डेयरी विकास के लिए दुग्ध संघों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *