Breaking News

शिक्षक ही समाज के पथ प्रदर्शक- बृजेन्द्र सिंह

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ। शिक्षाविद डा0 राधाकृष्णन के जन्म दिवस के अवसर पर आज पायनियर माण्टेसरी स्कूूल के एल्डिको शाखा के आडिटोरियम में शिक्षकों का सम्मान समारोह के साथ विविध प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये गये। इस अवसर पर मुख्य अतिथि मौसम विभाग के निदेशक आर0के0 वर्मा व अतिथि सर्वेश अस्थाना ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एंव दीप प्रज्ज्वलित किया। वहीं मैनेजर बृजेन्द्र सिंह ने स्कूल के संस्थापक स्व. पूरन सिंह के चित्र पर माल्यापर्ण कर उनको याद किया। वहीं पायनियर की एल्डिको शाखा की प्रधानाचार्या श्रीमती शर्मिला सिंह ने सभी अतिथियों एंव मुख्य अतिथि को स्मृतिचिह्न एंव पुष्प गुच्छ भेंट कर उनका अभिनन्दन किया।
इस अवसर पर पायनियर के प्रबन्धक बृजेन्द्र सिंह ने कहा कि शिक्षक ही समाज के पथ प्रदर्शक है। पायनियर की आधारशिला संस्थापक स्वर्गीय पूरन सिंह ने रखी किन्तु आज जिस मजबूत रूप में पायनियर रूपी इमारत नजर आ रही है उसमें शिक्षक रूपी ईटों का सहयोग है। उन्होंने कहा कि सफलता कभी अंको से नही मिलती परिश्रम करते रहिए सफलता स्वयं मिलेगी, विश्वास बनाये रखिये। इस अवसर पर अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के कवियों ने सुन्दर कविताएं प्रस्तुत की। कवि सम्मेलन में डा0 दिनेश रघुवंशी, कवि सर्वेश अस्थाना हास्य कवि, कवियत्री सोनरूपा विशाल -सरस्वती देवी की वन्दना प्रस्तुत की। कानपुर से पधारे हेमन्त पाण्डेय- हास्य कति लाफ्टर चैनल के प्रख्यात कवि, बाराबंकी श्री विकास बौखल सिंह-हास्यकवि, लखनऊ के मुकुल महान-हास्य व्यंग्य कवि ने प्रेम पर कविता पढ़ी, जिसे प्रेम तुम समझ रहे हो सकता के धोखा हो,ऊपर मोती चूर का लड्डू अन्दर बाटी चोखा हो। कविता को सुनकर लोग ठहाके मारने लगे। वहीं डा0 सोनरूपा विशाल ने भी कविता सुनायी। यश भारती पुरस्कार से सम्मानित व्यग्ंयकार सर्वेश अस्थाना ने हास्य व्यंग्य कविता प्रस्तुत की। लगभग 26 देशों में कविता पाठ कर चुके डा0 दिनेश रघुवंशी ने वर्तमान समय में पैसों के पीछे भागने की मनोवृत्ति का कविता के माध्यम से वर्णन करके सभी को सोचने पर मजबूर कर दिया तथा बच्चों की खुशियों के लिये सर्वस्व समर्पित माँ की बच्चों द्वारा की जाने वाली अवहेलना का वर्णन करके सभी के हदय को द्रवित कर दिया। इस अवसर पर समस्त शिक्षकों एंव कर्मचारियों को उपहार प्रदान करके सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का अन्त राष्ट्रगान के साथ हुआ। कार्यक्रम का संचालन सी-18, राजाजीपुरम् की शाखा की प्रधानाचार्या श्रीमती गार्गी आर्या ने किया। इस अवसर पर प्रबन्धक बृजेन्द्र सिंह ने सभी प्रधानाचार्याओं को पौधा भेंट कर अभिनन्दन किया। इसी क्रम में विभिन्न शाखाओं के द्वारा एक से बढ़कर एक नृत्य एंव गीत की आर्कषक प्रस्तुति मंच पर सभी को मंत्रमुग्ध करती रही। गणेश वन्दना, शिव स्तुति ने, सर्वधर्म समभाव संदेश देती विभिन्न राज्यों की वेशभूषा में रंगारंग प्रस्तुति सर्वश्रेष्ठ रही। डांडिया नृत्य, गुजराती, गरबा और हरियाणवी नृत्य भी प्रस्तुत किये गये। इस अवसर पर वरिष्ठ प्रधानाचार्या (सत्यप्रेमी नगर शाखा) श्रीमती सोमप्रभा मिश्रा तथा प्रधानाचार्या (लखपेड़ा बाग) श्रीमती रेखा मिश्रा को विशिष्ट पुरस्कार प्रदान कर उनको भावभीनि विदाई दी गई। दोनो लोगो को अंग वस्त्र, पुष्पगुच्छ, स्मृतिचिह्न एंव अन्य अनमोल उपहार भेंट किये गये।

 

Check Also

बाढ़ग्रस्त इलाकों में निराश्रित गोवंश को लेकर मंत्री ने जतायी चिंता, दिये यह निर्देश

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसरी न्यूज)ः प्रदेश के पशुधन एवं दुग्ध विकास …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *