Breaking News

प्रेमप्रसंग के चलते हुई थी सुनील की हत्या

लखनऊ, गोंडा। गोंडा पुलिस ने एक बार फिर से आईपीएस आकाश तोमर की अगुवाई में एक ब्लाइंड मर्डर केस पर से रहस्य का पर्दा उठाने में सफलता हासिल की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार विगत दिनों धानेपुर थाना क्षेत्र में एक अज्ञात व्यक्ति का शव मिला था। जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने प्रारंभिक जांच पड़ताल के बाद शव की शिनाख्त कर ली थी। घटना का संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक गोंडा आकाश तोमर ने अपने मातहतों को इस हत्याकांड का जल्द से जल्द खुलासा करने का निर्देश दिया था। जिसके बाद पुलिस ने आज इस हत्याकांड में शामिल दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल एक आरोपी अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर है, जिसे गिरफ्त में लेने के लिए लगातार पुलिस की टीमें दबिश दी रही हैं। स्थानीय पुलिस का दावा है कि वह जल्द ही तीसरे आरोपी को भी गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर लेगी।

घटनाक्रम के अनुसार थाना धानेपुर क्षेत्र के अन्तर्गत रामसमुझ के बाग में एक लडके का शव प्राप्त हुआ था। मृतक सुनील कुमार की मां श्रीमती कुसमा देवी की तहरीर पर थाना धानेपुर में सम्बन्धित धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया गया था। पुलिस अधीक्षक गोण्डा आकाश तोमर द्वारा घटना के जल्द से जल्द अनावरण के लिए अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज के पर्यवेक्षण में टीमे गठित कर प्रभारी निरीक्षक थाना धानेपुर को निर्देशित किया गया था।
इसी क्रम में पुलिस टीम द्वारा विवेचना के दौरान व इलेक्ट्रानिक साक्ष्यों के आधार पर घटना को अंजाम देने वाले दो आरोपी आशीष, पूनम को आनन्द चौराहे के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ के दौरान पता चला कि मृतक सुनील कुमार व पूनम के बीच काफी दिनों से प्रेमप्रसंग चल रहा था। समाज में बदनामी के चलते पूनम मृतक सुनील कुमार से पीछा छुड़ाना चाह रही थी लेकिन मृतक द्वारा लगातार पूनम को परेशान किया जा रहा था। इसलिए योजनाबद्ध तरीके से दोनो अभियुक्तों ने सात नवंबर को अपने साथी अभियुक्त विकास उर्फ आकाश के साथ मृतक सुनील कुमार को हुनमानगढ़ी मंदिर मेहनौन निकट नहर पुलिया पर बुलाया गया फिर बंजारनडीह के पास गलादबा कर हत्या कर दी गयी थी और शव को वही गन्ने के खेत में फेंक दिया गया था। दो दिन बाद नौ नवंबर की रात्रि उक्त अभियुक्तों द्वारा बोलेरो से मृतक के शव को गन्ने के खेत से उठाकर कालीमाता के स्थान से कुछ दूर बगीचे में लाकर आत्महत्या का रूप देने के लिए शव को पेड़ से लटकाने का प्रयास किया गया था परन्तु समय अधिक हो जाने के कारण शव को वही बगीचे में छोड कर फरार हो गए थे। फरार अभियुक्त विकास उर्फ आकाश की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें लगी हुई है। ।

Check Also

डीपफेक केस में एफआईआर हुई दर्ज, रश्मिका मंदाना से जुड़ा है मामला

नई दिल्ली। साउथ एक्ट्रेस रश्मिका मंदाना के डीपफेक वीडियो मामले में दिल्ली पुलिस ने एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *