Breaking News

मथुरा में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम, जानिए क्या है वजह

मथुरा। छह दिसंबर को शाही मस्जिद ईदगाह में हनुमान चालीसा का पाठ और लड्डू गोपाल का अभिषेक करने की अखिल भारत हिंदू महासभा की घोषणा के बाद सतर्क पुलिस प्रशासन ने अब पदाधिकारियों की धरपकड़ शुरू कर दी है। प्रदेश प्रवक्ता संजय हरियाणा समेत पांच पदाधिकारियों को घरों में नजरबंद किया गया है। चार को हिरासत में लेकर थाने पर बैठाया गया। पुलिस की सक्रियता देख कई पदाधिकारी भूमिगत हो गए हैं। पदाधिकारियों का कहना है कि मंगलवार को अपराह्न 12 बजे वह गुपचुप तरीके से ईदगाह पहुंचेंगे।
छह दिसंबर को शाही मस्जिद ईदगाह पर हनुमान चालीसा पाठ करने के अखिल भारत हिंदू महासभा के आह्वान पर पूरा जिला अलर्ट कर दिया है। ईदगाह आने जाने वाले रास्तों पर वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया। सुबह कांवड़ में गंगा जल लेकर जा रहे महासभा के आगरा जिला प्रभारी सौरभ शर्मा को पुलिस ने भूतेश्वर चौराहा से हिरासत में ले लिया। वह जन्मस्थान की ओर का रहे थे। उन्हें कोतवाली में बैठा लिया गया है।


वृंदावन और हाईवे थाने क्षेत्र में तीन पदाधिकारियों को पुलिस ने बैठा लिया है। कई पदाधिकारियों के घरों पर सोमवार को दिन में कई बार पुलिस ने दबिश दी, लेकिन वह हाथ नहीं लगे। जिलाध्यक्ष ने दावा किया कि हम सभी गुपचुप तरीके से तय स्थान पर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। इसलिए पदाधिकारी अपनी तैयारी कर रहे हैं।
ईदगाह और जन्मस्थान जाने वाले सभी मार्गों पर मंगलवार सुबह आठ बजे से बुधवार भोर तक वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित कर दिया गया है। एसपी सिटी एमपी सिंह ने बताया कि केवल एंबुलेंस, स्कूल वाहन और अन्य आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने वाले वाहनों को ही इधर से गुजरने की अनुमति होगी।
एसएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने संवेदनशील स्थानों पर पुलिस बल के साथ पैदल गश्त की। उन्होंने गोकुल रेस्टोरेंट से मसानी होते हुए डीग गेट तक गश्त की। इस दौरान संदिग्ध वाहनों की तलाशी भी ली गई।
छह दिसंबर को लेकर शांतिभंग में पाबंद किए गए महासभा पदाधिकारियों की पांच दिसंबर को सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय में पेशी थी। लेकिन हिरासत में लिए जाने के कारण पदाधिकारी पेशी पर नहीं पहुंचे। प्रदेश प्रवक्ता ने बताया कि सभी ने अपनी हाजिरी माफी लगाई है। उन्होंने कहा कि जब कई लोगों को नजरबंद कर लिया गया है, ऐसे में वह पेशी पर कैसे पहुंच सकते हैं। अब छह दिसंबर को फिर न्यायालय ने उपस्थित होने के लिए तिथि नियत की है। मंगलवार को आनंदपुरी निवासी नीरज गौतम, कृष्णा नगर निवासी मनीषा ठाकुर, कृष्णा विहार निवासी कन्हैया, रामप्रकाश और चंदनवन निवासी रूपा लवानिया को शांति भंग में पाबंद कर नोटिस जारी किया गया है।
शाही मस्जिद ईदगाह के आसपास कोई पहुंच न पाए, इसके लिए उसके बाहर बैरिकेडिंग की गई है। हर आने-जाने वाले व्यक्ति की ड्रोन कैमरे से निगरानी की जा रही है। सोमवार को दिन भर ईदगाह के बाहर बैरिकेडिंग का काम चलता रहा। उधर, सरकार भी पूरे मामले पर नजर रखे है। बीते वर्ष भी छह दिसंबर को अखिल भारत हिंदू महासभा ने शाही मस्जिद ईदगाह में लड्डू गोपाल का अभिषेक करने की घोषणा की थी, इसे लेकर पुलिस ने चौकसी बरती। बीते वर्ष नमाज पढऩे वालों को आइडी कार्ड देखकर ही प्रवेश दिया गया था।
अलग-अलग स्थानों पर ड्रोन लेकर पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। डीग गेट, मसानी, श्रीकृष्ण जन्मस्थान और ईदगाह के बाहर ड्रोन कैमरे उड़ाए जाएंगे। प्रदेश सरकार भी पूरे मामले पर नजर रखे हैं। सूत्रों का कहना है कि शासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी इस बाबत अधिकारियों से वार्ता की। उनसे सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जानकारी ली गई।
छह दिसंबर को लेकर जंक्शन रेलवे स्टेशन की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। जीआरपी और आरपीएफ की टीम गश्त कर रही हैं। संदिग्धों पर नजर रखी जा रही है।

Check Also

कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल होगें अखिलेश यादव

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की तरफ से कल कांग्रेस और सपा के गठबंधन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *