Breaking News

बेरोजगारी और गरीबी से अवसादग्रस्त युवाओं के लिए भी सोचे सरकार

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ। राष्ट्रवादी युवा अधिकार मंच ने बेरोजगारों को योग्यता के आधार पर उनके परिवार के कम से कम एक युवक को नौकरी दिये जाने, युवाओं के उत्पीड़न और उनका शोषण रोकने के लिए राष्ट्रीय युवा आयोग के गठन की मांग की है। युवाओं की अन्य मांगो को लेेकर राष्ट्रवादी युवा अधिकार मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष शशांक शेखर सिंह पुष्कर ने पक्ष और विपक्ष के सांसदों व मंत्रियों से मिलकर युवाओं की व्यथा बतायी, इसके साथ ही श्री पुष्कर ने प्रधानमंत्री को पत्र भी लिखा है।
राष्ट्रवादी युवा अधिकार मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष शशांक शेखर सिंह पुष्कर ने युवाओं के साथ उत्पीड़न, शोषण को रोकने एवं उनके अधिकार,सम्मान की लड़ाई लड़ने के लिए आगे आये हैं। उन्होंने युवाओं के स्वाभिमान के सरंक्षण,संवर्धन के लिए युवा आधारित नीति के तहत राष्ट्रीय युवा आयोग अथवा राष्ट्रीय युवा कल्याण आयोग के गठन की मांग की है। श्री पुष्कर ने राजनैतिक भूमिका,भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए युवा संसद के गठन, बढ़ती बेरोजगारी के समाधान के लिए कुशल व योग्य बेरोजगारों के लिए राष्ट्रीय रोजगार गारंटी जैसी ठोस एवं फलदायी कार्य योजना बनाने,परिवार में योग्यता के आधार पर परिवार मे कम से कम ’एक सदस्य को सरकारी नौकरी अथवा स्वरोजगार की व्यवस्था,रोजगार न मिलने तक 10,000 रु0 प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता की भी मांग की है। श्री पुष्कर ने केंद्र एवं प्रदेश सरकार के विभागों में रिक्त पदों को तत्काल पारदर्शी तरीके से भरने संबंधित आयोगों द्वारा आयोजित परीक्षाओं एवं परिणाम की समय सीमा निर्धारित व संबंधित अधिकारियों की जवाबदेही सुनिश्चित कराने के लिए कानून बनाये जाने तथा बेरोज़गारों की प्रतियोगी परीक्षाएं एवं परिवहन सुविधा निःशुल्क किये जाने की भी मांग की है। युवाओं के लिए विभिन्न प्रकार की मांगों को लेकर राष्ट्रवादी युवा अधिकार मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष शशांक शेखर सिंह पुष्कर ने विपक्षी दलों एवं भाजपा सांसदों,मंत्रियों को मांगपत्र देकर आगामी शीतकालीन सत्र में प्रस्ताव लाने एवं मंच के प्रयासों व संघर्षाे को अपना समर्थन एवं प्रबल संस्तुति के लिए सांसदों व मंत्रियों से मिलकर युवाओं के हित के लिए मांग पत्र सौंपा। श्री पुष्कर ने कहा कि यदि समय रहते कोई ठोस कार्य योजना नहीं बनी तो योग्य नौजवान बेरोजगारी की दशा में अवसादग्रस्त होकर अपराध की तरफ बढ़ जायेंगे जो चिंतनीय एवं गंभीर है। राष्ट्रवादी युवा अधिकार मंच के तत्वावधान में युवा एवं खेल मामलों के केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, सामाजिक अधिकारिता एवं न्याय मंत्रालय राज्यमंत्री भारत सरकार रामदास अठावले,सांसद कैंसरगंज बृज भूषण शरण सिंह,राज्यसभा सांसद विजय पाल सिंह तोमर,राज्यसभा सांसद नीरज शेखर,आजमगढ़ सांसद दिनेश लाल यादव निरहुआ, देवेंद्र सिंह उर्फ भोले सिंह,बांदा-चित्रकूट सांसद आर.के सिंह पटेल,कांग्रेस के राज्यसभा सांसद इमरान प्रतापगढ़ी,लोक जनशक्ति पार्टी(पासवान) चीफ चिराग पासवान,एनसीपी चीफ शरद पवार सहित अन्य सांसदों और मंत्रियों से मिलकर उनको मांगपत्र सौंपा। राष्ट्रवादी युवा अधिकार मंच ने कहा कि जाति,धर्म,संप्रदाय के नाम पर आयोग बना लेकिन नौजवानों के लिए न तो कोई ठोस नीति बनी, न ही नौजवानों का राष्ट्रीय स्तर पर आयोग ही बन पाया सिर्फ राजनैतिक दलों ने नौजवानों को वोटबैंक व प्रचारतंत्र के रूप मे इस्तेमाल करते हुए उनके ऊर्जा का दुरुपयोग व दोहन किया गया,समय की मांग है कि उनके सम्मान,स्वाभिमान की रक्षा के लिए ठोस निर्णय लिए जाये।

Check Also

वृहद वृक्षारोपण अभियान के लिए विभागों ने कसी कमर

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *