Breaking News

कारगिल विजय दिवस की पूर्व संध्या पर रामाधीन सिंह इंटर कॉलेज में बच्चों ने सुनी शहीदों की शौर्य गाथाएं

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ। कारगिरल विजय दिवस की पूर्व संध्या के अवसर पर कमलादेवी फाउंडेशन एवं इंस्टिट्यूट ऑफ आर्ट एंड कल्चर के तत्वाधान में शहीदों को याद किया गया, उनके अमर बलिदान की गाथाएं बच्चाों को सुनाई गयी। इस अवसर पर रामाधीन सिंह इंटर कॉलेज में छात्रों ने वीर सैनिकों की याद में दिवारों पर पोस्टर व बैनर से हस्त निर्मित चित्र बनाया व छात्र -छात्राओं के बीच भारतीय सैनिकों एवं क्रान्तिवीरों से जुड़ी शौर्य गाथााओं को सुनाया गया, कॉलेज में बच्चों ने चित्रकला, समान्य ज्ञान प्रतियोगिता सहित विविध आयोजन किये गये।
प्रतियोगिता का उद्घाटन रामाधीन इंटर कॉलेज के उप प्रधानाचार्य राघवेन्द्र सिंह, फाउंडेशन कि अध्यक्ष कमला देवी गुप्ता के द्वारा किया गया।

इस अवसर पर उप प्रधानाचार्य राघवेन्द्र सिंह ने बच्चों को कारगिल विजय दिवस के अवसर पर बताते हुये कहा कि हर साल 26 जुलाई को विजय दिवस मनाया जाता है, उन्होंने कहा कि 26 जुलाई 1999 में कारगिल युद्ध में भारत ने पाकिस्तान की सेना के पांव उखाड़ दिये थे, पाकिस्तानी घुसपैठियों को आपरेशन विजय के तहत खदेड़ कर भारतीय सेना ने युद्ध में फतह हासिल की थी। उन्होंने कहा कारगिल विजय दिवस के पर युद्ध में शहीद हुये वीर सैनिकों को हम लोग श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। श्री सिंह ने कहा कि प्रतियोगिताएं बच्चों के शारीरिक एवं मानसिक विकास में सहायक होती हैं और इस तरह की प्रतियोगिताएं जो हमारे राष्ट्र और संस्कृति से संबंधित हैं वह हमें अपनी जड़ों से जोड़ती है। फाउंडेशन कि अध्यक्ष कमला देवी गुप्ता ने कहा कि राष्ट्रभक्ति की भावना हमेशा एक दूसरे से जोड़े रखती है। उन्होनें कहा कि हमें देश और देशवासियों से हमेशा प्रेम और सहयोगी की भावना के साथ मिलकर रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि सच्चा राष्ट्रभक्त अपने राष्ट्र की उत्थान की भावना के साथ कार्य करता है। कमला देवी ने कहा कि आज समय आ गया है की युवा को इस तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रमों से जागृत किया जाए और वह अपने असली नायक को पहचाने। संस्थान के अध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा की भारत को इस युद्ध में जीत हासिल हुई थी। हर साल, इस दिन युद्ध में शहीद हुए सैकड़ों भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि देते हैं। भारतीय सशस्त्र बलों के योगदान को याद करते हैं। वहीं संस्थान के उपाध्यक्ष राकेश प्रभाकर ने कहा कि कारगिल विजय दिवस स्वतंत्र भारत के सभी देशवासियों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण दिवस है विजय दिवस युद्ध में शहीद हुए भारतीय जवानों के सम्मान के लिए यह दिवस मनाया जाता है। चित्रकला प्रतियोगता में प्रथम प्रिया,द्वितीय स्मृति कश्यप, पुरस्कार प्राप्त किए हैं तथा सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता में प्रथम शगुन रावत,द्वितीय किरण गुप्ता, तृतीय सानिया बानो ने पुरस्कार प्राप्त किए संस्थान के सचिव श्रीश सिंह ने बताया की संस्थान का यह उद्देश्य रहता है की इस तरह की सांस्कृतिक गतिविधियों के साथ राष्ट्र को जोड़ने वाली गतिविधियां देखी जाएं जिससे छात्र छात्राएं अपने इतिहास, गौरव और परंपराओं को याद रखें और आगे बढ़ाएं। कार्यक्रम में कालेज के प्रवक्ता राजीव गुप्ता,कला शिक्षक अनीता वर्मा,संजय राज निर्णायक आर्ट कालेज,आर्टिस्ट संजीव गुप्ता दिलीप कुमार उपस्थित रहे ।

Check Also

वृहद वृक्षारोपण अभियान के लिए विभागों ने कसी कमर

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *