Breaking News

गौ-नस्ल सुधार की रणनीति बनायेगा यूपी का पशुपालन विभाग

Getting your Trinity Audio player ready...
पशुपालन विभाग के अधिकारियों संग बैठक करते प्रदेश के पशुधन एवं दुग्ध विकास कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ।

लखनऊ। बरसात के मौसम में पशुओं को बीमारी से बचाने के लिए प्रदेश के पशुधन एवं दुग्ध विकास कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि विभाग के अधिकारी दो चरणों यानि 1 से 12 अगस्त तथा 17 से 30 अगस्त तक अभियान चलाकर पशुओं का टीकाकरण करने की व्यवस्था करें। इसके साथ ही निराश्रित गोवंश के पेयजल, चारे व भूषे, प्रकाश व उनकी चिकित्सा व्यवस्था को सुचारू रूप से इंतजाम करंे। मंत्री ने बरसात के मौसम में गो आश्रय स्थल पर होने वाले जल भराव को रोकने के इंतजाम करने के निर्देश दिये हैं।
विधानसभा में मुख्य भवन स्थित अपने कार्यालय विभाग के कैबिनेट मंत्री ने आज संक्रामक रोगों एवं निराश्रित गोशालाओं की मौज्ूादा स्थिति की मण्डलवार समीक्षा की। बैठक में उन्होंने कहा कि पशुधन की सुरक्षा की दृष्टि से उन्हें संक्रामक बीमारियों से जैसे गलाघोटू, खुरपका, मुंहपका एवं ब्रूसेल्लोसिस आदि से बचाना अत्यंत महत्वपूर्ण है, इसलिए टीकाकरण कार्यक्रम का कार्य प्राथमिकता के आधार पर ससमय पूरा किया जाए। कार्य में लापरवाही बरतने पर संबंधित के विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही की जायेगी। बैठक में कैबिनेट मंत्री ने पोल्ट्री व्यवसाय में लगे हुए छोटे-छोटे उद्यमियों एवं कुक्कुट पालकों के आर्थिक हितों के दृष्टिगत कुक्कुट का बीमा कराये जाने की सम्भावनाओं पर विचार किये जाने को कहा। उन्होंने अधिकारियों को आने वाले महीनों अक्टूबर में गौ-नस्ल सुधार विषय पर एक कार्यशाला करने की तैयारी करने के निर्देश दिये हैं। जिसमें देशभर के गौवंश कार्यों से जुड़ी संस्थाएं, समाजसेवी, गो-पालक एवं संबंधित वैज्ञानिक प्रतिभाग करेंगे, जिससे गौवंश के संरक्षण एवं संवर्धन के कार्यों को नया आयाम मिलेगा। बैठक में विभाग के अपर मुख्य सचिव डा. रजनीश दुबे, विशेष सचिव देवेन्द्र पाण्डेय, निदेशक रोग नियंत्रण एवं प्रक्षेत्र डा0 जीवन दत्त, निदेशक प्रशासन एवं विकास डा0 इन्द्रमणि एवं अपर निदेशक डा0 अरविन्द कुमार उपस्थित थे।

Check Also

रैली निकालकर दिया मतदाता जागरूकता का संदेश

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ/उन्नाव,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः केंद्रीय संचार ब्यूरो, सूचना एवं प्रसारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *