Breaking News

…अगर दिख रहे हैं ये लक्षण जनाब, तो समझ लीजिए इसको छोडऩे का वक्त आ गया

लखनऊ। शराब को सेहत के लिए बहुत हानिकारक माना जाता है। कई लोग बीयर का सेवन भी करते हैं। लोगों का मानना है कि बीयर सेहत के लिए फायदेमंद होती है, लेकिन इसका एक साथ अधिक मात्रा में सेवन करना आपके लिए काफी हानिकारक साबित हो सकता है। ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें देखते ही आपको तुरंत बीयर छोड़ देनी चाहिए. शराब सेहत के लिए काफी हानिकारक साबित होती है। अधिक मात्रा में शराब का सेवन करने से आपको कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। डॉक्टरों के अनुसार रोजाना शराब के सेवन के बहुत दुष्प्रभाव होते हैं।
सभी मादक पेय की तरह, बड़ी मात्रा में बीयर पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माना जाता है। अधिकांश बियर पीने वाले एक बार में ढेर सारी बियर पीते हैं। अधिक मात्रा में बीयर का सेवन करने से पाचन संबंधी समस्याएं, नींद की कमी, सिरदर्द हो सकता है। वहीं बीयर के लगातार सेवन से मोटापा, हाई ब्लड प्रेशर, लीवर खराब होना, हृदय रोग और डिप्रेशन का खतरा भी काफी बढ़ जाता है। तो आइए जानते हैं कौन से लक्षण देखते ही आपको बीयर पीना बंद कर देना चाहिए।
हाई ब्लड प्रेशर- अगर आप रोजाना बीयर का सेवन करते हैं और आपका ब्लड प्रेशर हाई बना रहता है तो बीयर छोडऩा आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। शराब के अत्यधिक सेवन से हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है।
नींद की कमी, अनिद्रा और दिन में नींद आना- शराब में मौजूद कुछ तत्वों के कारण इसे पीते ही आपको नींद आने लगती है, लेकिन शराब पीने से आपको गहरी नींद नहीं आती है। साथ ही शराब के कारण आपको बार-बार पेशाब आता है, जिससे आप गहरी नींद नहीं ले पाते हैं। काइली इवानिर नाम की डाइटीशियन एमएस, आरडी का कहना है कि अगर आप अच्छी नींद लेना चाहते हैं तो सोने से ठीक पहले कभी भी बीयर का सेवन न करें।
हाई लिवर एंजाइम– लिवर एंजाइम का पता लगाने के लिए यह जरूरी है कि आप साल में एक बार अपना फिजिकल चेकअप कराएं। बहुत अधिक शराब का सेवन करने से लीवर में एंजाइम बढ़ सकते हैं। कई बार दवाओं और इंफेक्शन की वजह से भी लीवर एंजाइम ज्यादा हो जाते हैं। इवानिर ने कहा, यदि आपके रक्त परीक्षण में एएसटी (एस्पार्टेट एमिनोट्रांस्फरेज) और एएलटी (एलेनिन ट्रांसएमिनेस) जैसे उच्च लीवर एंजाइम दिखाई देते हैं, तो इसका मतलब है कि आपके लीवर को ब्रेक की जरूरत है।
तनाव- अगर आप तनाव और चिंता से परेशान हैं तो इस बात पर ध्यान देना जरूरी है कि आप कितनी बीयर पीते हैं। बीयर पीने से शरीर में कोर्टिसोल का स्तर बढ़ जाता है, जिससे तनाव और चिंता बढ़ जाती है।
ज्यादा बीमार होना- अगर आप बहुत ज्यादा बीमार हो रहे हैं तो इसके लिए आप बीयर को जिम्मेदार ठहरा सकते हैं। जब आप बहुत अधिक शराब का सेवन करते हैं, तो यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर कर देता है, जिससे आपके बीमार पडऩे की संभावना बढ़ जाती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, शराब के अत्यधिक सेवन से एचआईवी होने का खतरा काफी बढ़ जाता है क्योंकि यह प्रतिरक्षा को कमजोर करता है, साथ ही यौन व्यवहार में भी बदलाव लाता है।
ग्लूटेन सेंसिटिविटी- हर बार बीयर पीते समय असहज महसूस करना इसका एक कारण ग्लूटेन हो सकता है। ग्लूटेन संवेदनशीलता एक ऐसी समस्या है जिसके कारण व्यक्ति को जौ, गेहूं और राई में मौजूद एक प्रकार के प्रोटीन ग्लूटेन का सेवन करने के बाद एलर्जी आदि की समस्या का सामना करना पड़ता है। अधिकांश बियर जौ, गेहूं और राई से बनाई जाती है। इन सभी में ग्लूटेन होता है।

Check Also

कोरोना का कहर, संक्रमितों की संख्या हुई दस हजार के पार

नई दिल्ली। कोरोनावायरस फिर से डराने लग गया है। लोगों को भय सताने लगा है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *