Breaking News

 समाज के लोगों को शिक्षा के लिए प्रेरित करते थे, पद्मभूषण डॉ. कल्बे सादिक – नजमुल हसन रिज़वी

लखनऊ। पद्मभूषण से सम्मानित स्वर्गीय मौलाना डॉ. कल्बे सादिक ने अपनी पूरी जिंदगी तालीम को बहुत अहमियत दी, यह उनकी ही सोच थी, कि मुसलमान दीनी तालीम हासिल करने के साथ, माडर्न एजुकेशन में परागंत हो। शायद यही कारण है कि आज मदरसों में भी दीनी तालीम के साथ-साथ मॉडर्न एजुकेशन पर जोर दिया जा रहा है, जिससे आने वाली युवा पीढ़ी शिक्षित होकर एक सभ्य समाज का निर्माण करें। यह बातें यूनिटी कॉलेज के सचिव कॉलेज के सचिव नजमुल हसन रिज़वी ने डा. सादिक की दूसरी पुण्य तिथि के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में कही।
ठाकुरगंज में स्वर्गीय मौलाना डॉ. कल्बे सादिक की दूसरी पुण्य तिथि के अवसर पर यूनिटी कॉलेज म बीती 24 नवम्बर को फांडडर्स डे का आयोजन किया गया, कार्यक्रम का प्रांरभ क़ुरान-ए-पाक, भागवतगीता, बाइबिल एवम् गुरू ग्रन्थ साहिब की पंक्तियों के साथ हुआ। इस अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. असद अब्बास ने स्वर्गीय मौलाना डॉ. कल्बे सादिक के प्रति श्रद्वाजंलि अर्पित करते हुए कहा कि जुनून, लक्ष्य, धैर्य और समय की पाबंदी उनके व्यक्तित्व की मुख्य विशेषताएं थी और इन्हीं बातों को जीवन का आधार बनाकर आगे बढ़ना ही वास्तव में जनाब के प्रति सच्ची श्रद्वाजंलि होगी। वहीं डॉ. कल्बे सिब्तैन नूरी ने कहा कि जो जीवन में संघर्ष करते हैं वही आगे जाकर सफल होते है। आरामदायक जीवन जीने वाले कभी भी सफलता प्राप्त नहीं कर पाते हैं। उन्होंने टी.एम.टी. द्वारा किये जाने वाले कार्यों की सराहना की व इस संस्था से जुड़ने के लिये लोगों को प्रोत्साहित किया। कार्यक्रम का समापन करते हुए कॉलेज के सचिव नजमुल हसन रिज़वी ने कहा कि हममें से प्रत्येक की यह ज़िम्मेदारी है कि जनाब ने जिस मिशन के तहत कार्य किया, हम भी पूरे धैर्य के साथ उस मिशन को आगे बढ़ाये व एक उन्नत देश व स्वच्छ समाज का निर्माण करें। मौलाना डॉ. कल्बे सादिक़ साहब के द्वारा किये गये कार्याे को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने हमेशा लोगों को इल्म के क्षेत्र में महारत हासिल करने की प्रेरणा दी। कार्यक्रम में सी.एम.एस. के प्रबंधक जगदीश गांधी, आशिक अब्बास, हबीब अकबर, डॉ. कल्बे सिबतैन नूरी, मैनेजिंग कमेटी के सदस्य, कॉलेज के शिक्षकगण, भूतपूर्व विद्यार्थी एवम् बच्चों ने उपस्थित होकर डॉ. कल्बे सादिक़ साहब को भावभीनी श्रद्वांजलि अर्पित की। इस अवसर पर यूनिटी कॉलेज के प्री. प्राइमरी के नन्हे मुन्ने बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किया गया। वहीं प्राइमरी के बच्चों द्वारा एक लघु नाटिका प्रस्तुत की गई।

Check Also

कड़क प्रशासक एवं जनप्रिय अफसर के रूप में आज भी जाने जाते हैं, स्व. कैलाश नारायण पाण्डेय- आनंद उपाध्याय

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)। सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी स्वर्गीय कैलाश नारायण पांडे की पुण्य तिथि के अवसर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *