Breaking News

मैनपुरी चुनाव: अखिलेश ने लगाया योगी सरकार पर यह आरोप

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ: यूपी में हो रहे उपचुनाव के मतदान के दौरान सूबे के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने एक बार फिर से योगी सरकार पर निशाना साधा है। उत्तर प्रदेश में मैनपुरी, रामपुर और खतौली में उपचुनाव हो रहे हैं। इस बीच अखिलेश यादव ने पुलिस प्रशासन पर भारतीय जनता पार्टी की सरकार के दबाव में काम करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पुलिस जानबूझकर सपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ ऐक्शन ले रही है और उन्हें वोट देने से रोका जा रहा है। सपा कार्यकर्ताओं के गावों में लोगों को घरों में कैद किया गया है। उन्होंने कहा कि लखनऊ से अधिकारियों को खासतौर पर मैनपुरी सीट की निगरानी के लिए भेजा गया है। रामपुर में कफ्र्यू जैसा माहौल है और वहां प्रत्याशी धरने पर बैठे हैं कि फेयर इलेक्शन नहीं हो रहा है।
सपा सोमवार को मतदाना शुरू होने के बाद से ही लगातार प्रशासन पर पक्षपात करने का आरोप लगा रही है। अखिलेश ने भी डिंपल यादव के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि सुबह से लगातार शिकायतें आ रही हैं। जिस दिन से रामपुर में वोट मांगकर आए हैं, तब से प्रशासन लगा हुआ है कि वोट न पडऩे पाए। वोट न पडऩे के हर तरीके इस्तेमाल किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं रामपुर गया तो हर चौराहे पर पुलिस खड़ी है। मुझे लगा कि सुरक्षा का इंतजाम है लेकिन सभा स्थल पर हम पहुंचे तो पता चला कि लोग न आ जाएं सभा में, इसलिए पुलिस खड़ी है।


अखिलेश ने कहा कि रामपुर में प्रत्याशी ने खुद धरना दिया कि पुलिस फेयर इलेक्शन नहीं करा रही है। फौज लगा दीजिए। रामपुर में फौज तक की मांग कर दी गई। उन्होंने कहा कि पुलिस पर सवाल उठेगा तो लोकतंत्र कैसे बच पाएगा। बाहर की फोर्स के साथ लोकल फोर्स रहती है। लोकल फोर्स रास्ता दिखाती है। रामपुर की ही बात है। मैनपुरी में पहले ही दिन से प्रशासन कोशिश में है कि वोट कैसे रोका जाए और सपा कार्यकर्ताओं के साथ अन्याय कैसे हो। बीजेपी को खुली आजादी है। शराब बांट सकते हैं। कुछ भी कर सकते हैं। उनके गांव में कोई फोर्स नहीं जा रही है।
अखिलेश ने सवाल किया कि बाहर से जो फोर्स आ रही है, उन्हें ब्रीफिंग क्या हो रही है? क्या उन्हें कहा जा रहा है कि सपा के जो चिह्नित गांव हैं, उनमें जाइए। डराइए, धमकाइए। ऐसी भाषा यूज हो रही है कि शेयर भी नहीं कर सकते। अखिलेश ने अधिकारियों पर भी सवाल उठाया और कहा कि वे योगी सरकार के दबाव में काम कर रहे हैं।
अखिलेश ने कहा कि लखनऊ के पत्रकार जानते होंगे। अधिकारियों को मैनपुरी की निगरानी के लिए रखा है। भाषा है न कि डंडा डालकर रखे हैं। भाषा ठीक नहीं है लेकिन… । एक अधिकारी ने कहा कि ऊपर से इतना डंडा है कि हम आपकी कैसे सुने? लखनऊ से ये सब चल रहा है। उन्होंने कहा कि जनता सपा और नेताजी के साथ है। एक-एक वोट जनता सपा के पक्ष में डालने जा रही है। हर वर्ग के लोग डिंपल यादव के लिए मतदान कर रहे हैं। प्रशासन और आयोग की जिम्मेदारी है कि ज्यादा से ज्यादा वोट पड़ें और यहां वोट नहीं डालने दिया जा रहा है। रामपुर में कफ्र्यू लगा दिया है।
वहीं, मैनपुरी से सपा प्रत्याशी डिंपल यादव ने भी ट्वीट कर चुनाव में धांधली का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि डीएम मैनपुरी चुनाव में हो रही धांधली की शिकायत को लेकर सपा कार्यकर्ताओं के फोन को नहीं रिसीव कर रहे। संज्ञान ले चुनाव आयुक्त।

Check Also

वृहद वृक्षारोपण अभियान के लिए विभागों ने कसी कमर

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *