Breaking News

रायबरेली में खाकी ही बनी खाकी की दुश्मन, सपा मुखिया ने साधा प्रदेश सरकार पर निशाना

 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में खाकी ही खाकी की दुश्मन बन गई है। जिला जेल से ड्यूटी से घर जा रहे एक सिपाही पर साथी सिपाहियों ने जानलेवा हमला कर दिया। हमले में सिपाही गंभीर रूप से घायल हो गया। सिपाही की पिटाई का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें दिखाई दे रहा है कि चार लोग सिपाही को बुरी तरह से पीट रहे हैं। आरोप है कि ये सभी लोग जले में कैंटीन चलात हैं। ये लोग सिपाही पर दबाव बना रहे थे कि जेल में मिलने वाले खाने में गड़बड़ी करो, ताकि बंदी कैंटीन का खाना खाएं। हालांकि इन लोगों की बात सिपाही ने नहीं मानी।
वहीं इस घटना पर समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्वीट कर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा, भाजपा सरकार में बेईमान के हाथ में लाठी है और ईमानदार प्रताडऩा का शिकार हो रहे हैं। उत्तर प्रदेश की एक जिला जेल में भ्रष्टाचार में साथ न देने पर पुलिसवाले ही पुलिसवाले को पीट रहे हैं। पुलिस से झूठे मुकदमे करवाने वाली भाजपा सरकार ने पुलिस को भ्रष्ट कर दिया है। कोई सुनने वाला है क्या?
बता दें, मामला जिला कारागार रायबरेली का है, जहां जेल में तैनात सिपाही मुकेश दुबे अपनी ड्यूटी के बाद जेल गेट से बाहर निकल कर 10 कदम चले होंगे कि पीछे से जेल में ही तैनात पांच सिपाहियों ने लाठी-डंडों से उन पर हमला कर दिया। जेल में सिपाही पर हुए हमले से जेल प्रशासन में हडक़ंप मच गया। घायल सिपाही की पत्नी और बच्चे भी जेल के बाहर मुकेश का वेट कर रहे थे। मुकेश के चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर मौके पर पहुंचकर उसे बचाने की कोशिश कि, तब तक हमलावर सिपाही मौके से भाग खड़े हुए। आनन-फानन में घायल सिपाही को जिला अस्पताल लाया गया, जहां पर उसका प्राथमिक उपचार किया जा रहा है।
घायल मुकेश सिपाही ने बताया कि मेरी ड्यूटी भंडारे में लगी हुई है और जिन लोगों ने हमला किया है, वह जेल के अंदर कैंटीन चलाते हैं। पिछले एक महीने से कैंटीन चलाने वाले उस पर बराबर दबाव बना रहे थे कि कैदियों को मिलने वाले खाने में गड़बड़ी करो, ताकि जेल में बंद बंदी खाना कैंटीन से लें, लेकिन मैंने ईमानदारी से बंदियों को मिलने वाले खाने की गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया। इसी से नाराज होकर आज जेल गेट के सामने कैंटीन चलाने वाले सिपाही विजय सिंह, सौरभ वर्मा, प्रवेश सिंह, राजीव शुक्ला और जसवंत कुमार ने मेरे ऊपर लाठी-डंडों से जानलेवा हमला किया है।
घायल सिपाही ने बताया कि शहर कोतवाली में पांचों सिपाहियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर दे दी और प्रशासन से मांग की है कि इन पांचों पर कार्रवाई होनी चाहिए। जिला अस्पताल इमरजेंसी में तैनात डॉ. अनुराग शुक्ला ने बताया कि एक सिपाही को घायल अवस्था में लाया गया था। प्राथमिक उपचार के बाद ट्रीटमेंट किया जा रहा है।

Check Also

समाज के तानों का बेटी ने दिया,  जज  बन कर जवाब

  लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)। सोशल मीडिया के इस दौर में युवा रील और इंस्टाग्राम के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *