Breaking News

भारत जोड़ों यात्रा पर गिरिराज ने साधा निशाना,

Getting your Trinity Audio player ready...

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बिहार की महागठबंधन सरकार पर केवल मुस्लिम वोट बैंक की चिंता करने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को दावा किया कि इस प्रदेश में धर्मांतरण बड़ी तेजी से हो रहा है. भारतीय जनता पार्टी के नेता गिरिराज सिंह ने देश में धर्मांतरण रोधी कठोर कानून की आवश्यकता पर जोर दिया और कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर तंज किया. गिरिराज सिंह ने इस यात्रा को हिंदू समुदाय से नफरत करने वालों को एकजुट करने की कोशिश बताया.

गिरिराज सिंह ने कहा कि मुझे आश्चर्य है कि बिहार में हिंदुओं के बारे में कौन सोचेगा जहां सत्तारूढ़ महागठबंधन को केवल अपने मुस्लिम वोट बैंक की चिंता है और राज्य में बड़ी तेजी से हो रहे धर्मांतरण पर राज्य सरकार ने आंख मूंद रखी हैं.

केंद्रीय मंत्री ने कहा सीमांचल क्षेत्र (नेपाल और पश्चिम बंगाल की सीमा से लगे) में स्थिति इतनी गंभीर हो गई है कि उन जिलों का दौरा करने पर आश्चर्य होता है कि क्या कोई बांग्लादेश में प्रवेश कर गए हैं.सिंह ने दावा किया, मेरे अपने लोकसभा क्षेत्र बेगूसराय सहित बिहार के दूसरे जिलों में ईसाई मिशनरी धर्मांतरण कर रहे हैं. देश में एक ऐसा कानून लाया जाना चाहिए जो धमकी या प्रलोभन के माध्यम से धर्मांतरण पर रोक लगा सके.इसे राजनीति के चश्मे से नहीं देखा जाना चाहिए.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के बारे में पूछे जाने पर सिंह ने कहा,वह एक राजा के बेटे हैं मैं उनके बारे में कुछ भी कहने वाला कौन होता हूं. गिरिराज सिंह ने भारत जोड़ो यात्रा यात्रा पर निशाना साधते हुए कहा कि राहुल गांधी भारत को एकजुट कर रहे हैं या टुकड़े टुकड़े गिरोह और हिंदुओं के लिए नफरत से भरे ईसाई पादरियों को एक साथ ला रहे हैं. असम के मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा की कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बारे में विवादास्पद टिप्पणी का परोक्ष रूप से हवाला देते हुए सिंह ने पूछा अधपकी दाढ़ी लोगों को और किसकी याद दिलाती है. शर्मा ने कहा था कि राहुल की दाढ़ी इराक के पूर्व राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन जैसी लगती है.

Check Also

बाढ़ग्रस्त इलाकों में निराश्रित गोवंश को लेकर मंत्री ने जतायी चिंता, दिये यह निर्देश

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसरी न्यूज)ः प्रदेश के पशुधन एवं दुग्ध विकास …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *