Breaking News

कोरोना की रप्तार भले ही कम, चुनौतियों के लिए तैयार हम -सत्येन्द्र वर्मा

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ। एक ओर जहां अब कोरोना की रफ्तार उसकी पहली और दूसरी लहर के मुकाबले कुछ कम दिख रही है और लोगों में कोरोना गाइड लाइन का पालन करने की रुचि कम होती जा रही है ऐसे में भी कुछ ऐसे अधिकारी हैं जो अब भी अपने कार्यक्षेत्र में पूरी तरह से कोरोना गाइड लाइन का पालन कराने की कोशिश कर रहे हैं। इसके पीछे का मकसद बस यही है कि अब फिर से इस देश में कोरोना के खतरे को किसी भी कीमत पर रोका जाए, और लोगों में इसको लेकर जागरुकता बनी रही है।

डीजीसीए के सहायक निदेशक सत्येन्द्र वर्मा

आज लगभग सभी लोग जानते हैं कि जरा सी लापरवाही के कारण ही कोरोना का संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे तक पहुंचता है। ऐसे में कई ऐसी जगहें संवेदनशील मानी जाती हैं जहां पर बड़े स्तर पर लोगों की मौजूदगी या आवाजाही बनी रहती है, फिर चाहे वो मार्केट प्लेस हो, स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी, रेलवे स्टेशन या फिर एयरपोर्ट…ये कुछ ऐसी जगह हैं जहां पर कोरोना गाइड लाइन का पालन ढंग से नहीं किया जाए तो संक्रमण फैलने का खतरा बना रहता है। ऐसे वक्त में अब जब लोग इस ओर से कुछ लापरवाह हो रहे हैं ऐसे वक्त में भी चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट के एक अधिकारी एयरपोर्ट परिसर से लेकर उड़ानों तक में कोरोना गाइड लाइन का पालन कराने की बाखूबी जिम्मेदारी मात्र औपचारिकता के रूप में नहीं बल्कि दायित्व के रूप में निभा रहे हैं। अमौसी एयरपोर्ट पर डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल ऐवीएशन (डीजीसीए) के सहायक निदेशक सत्येन्द्र वर्मा एयरपोर्ट पर कोविड के प्रोटोकाल में आज भी जरा भी लापरवाही नहीं बरत रहे हैं, इसके लिए वह समय समय पर एयरपोर्ट पर औचक निरीक्षण कर जानकारी लेते रहते हैं। सहायक निदेशक श्री वर्मा कोरोना काल की पहली लहर से लेकर मौजूदा वक्त तक इस एयरपोर्ट की व्यवस्थाओं पर अपनी पैनी नजर बनाए रखी है। इस युवा अधिकारी ने हालातों के सामने हार नहीं मानी बल्कि इन्होंने हालातों का डटकर मुकाबला किया। उस वक्त सरकार ने जो भी कोरोना की गाइड लाइन तैयार की थी ये उसका अक्षरशरू पालन कराने के लिए कटिबद्ध रहे। लोगों में जागरुकता लाने से लेकर एयरपोर्ट परिसर में आने वाले लोगों तक जरूरी सामान जैसे सैनिटाइजर, मॉस्क आदि पहुंचाने का काम बेहद चरणबद्ध तरीके से करवाया। इतना ही नहीं उड़ान से यात्रियों को कोविड का कड़ाई सेे पालन कराने के लिए तत्पर रहे, आज भी इंट्री गेट पर बिना मास्क एयरपोर्ट पर यात्रियों को जाने की अनुमति नहीं है। यात्रियों की सुरक्षा के लिए एयपोर्ट पर मास्क व सेनेटाइजर आदि की मुकम्मल व्यवस्था करने के दिशा निर्देश देते रहते हैं। एयपोर्ट पर हर दिन हजारों यात्रियों का अवागमन होता रहता है, ऐसे में कोविड को लेकर जोखिम बना रहता है, जिसको देखते हुये श्री वर्मा ने टीम गठित कर कोविड के नियमों का आज भी सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिये हैं, वह खुद भी इस बावत जानकारी लेते रहते हैं।

Check Also

वृहद वृक्षारोपण अभियान के लिए विभागों ने कसी कमर

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *