Breaking News

वायु प्रदूषण से एक साल में 16 लाख भारतीयों की हुई मौत

Getting your Trinity Audio player ready...

नई दिल्ली। दिल्ली एनसीआर में वायु प्रदूषण का लेवल लगातार बढ़ रहा है. सोमवार को राजधानी दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक 339 दर्ज किया गया है. जो बेहद गंभीर श्रेणी में माना जाता है. राजधानी की हवा जहरीली बनी हुई है. ये वायु प्रदूषण मौत का कारण भी बनता है. द लैंसेंट मेडिकल जर्नल में 2019 की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनियाभर में प्रदूषण से 90 लाख लोगों की मौत हुई. इसमें अकेले भारत में ही वायु प्रदूषण से 16 लाख लोगों ने जान गंवाई थी. इसमें बुजुर्गों की संख्या काफी अधिक थी.
स्टडी में बताया गया था कि वायु प्रदूषण से लंग्स कैंसर समेत कई प्रकार की खतरनाक सांस संबंधित बीमारियों होती है. जो मौत का कारण बनती है. ये डिजीज इस कदर जानलेवा साबित हो रही है कि देश में हर दिन प्रदूषण से 6 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा रहे हैं. डॉक्टर बताते हैं पॉल्यूशन से लंग्स के अलावा हार्ट को भी कई प्रकार की परेशानियां हो सकती है. नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन के अनुसार, वायु प्रदूषण से दिल का दौरा तक पड़ सकता है.


वरिष्ठ फिजिशियनों के अनुसार वायु प्रदूषण एक बड़ी चुनौती बन कर उभर रहा है. खासतौर पर इस मौसम में पॉल्यूशन की समस्या काफी बढ़ जाती है. पराली जलना और वाहनों से निकलने वाला प्रदूषण हवा को खराब करने के लिए सबसे अधिक जिम्मेदार हैं. प्रदूषण की वजह से देश को आर्थिक नुकसान भी हो रहा है. कोविड महामारी के बाद सांस संबंधित मरीज भी काफी बढ़ गए हैं. बताते हैं कि वायु प्रदूषण में मौजूद पार्टिकुलेट मैटर (पीएम2.5) से कई बीमारियों को खतरा बढ़ जाता है. अगर किसी व्यक्ति को पहले से ही अस्थमा, ब्रोंकाइटिस या सीओपीडी की समस्या है तो पॉल्यूशन से उसमें इजाफा हो जाता है. इस मौसम में देखा जाता है कि अस्थमा के मरीजों को अस्थमा अटैक आ जाता है. सोओपीडी के मरीजों को सांस लेने में परेशानी होने लगती है. कई मामलों में ऐसे रोगियों को अस्पताल में भी भर्ती करने की जरूरत पड़ती है. ऐसे में जरूरी है कि लोग बढ़ते वायु प्रदूषण से अपना बचाव करें.

वायु प्रदूषण से ऐसे करें बचाव

बाहर जाते समय मास्क जरूर लगाएं

धूल और धूएं से बचाव करें

खानपान का ध्यान रखें

सुबह सैर करने से बचें

घर में एयर प्यूरिफायर लगवा सकते हैं

अगर अस्थमा के मरीज है तो हमेशा अपने पास इन्हेलर रखें

सांस लेने में परेशानी होने पर तुरंत डॉक्टरों से संपर्क करें

 

 

Check Also

वृहद वृक्षारोपण अभियान के लिए विभागों ने कसी कमर

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *