Breaking News

आपके घर की इस दिशा में है खजाना लेकिन सावधान…

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ। वास्तु शास्त्र में ईशान कोण को घर की सबसे उत्तम दिशा बताया गया है. घर की उत्तर पूर्व दिशा का मध्य स्थान ईशान कोण कहलाता है. वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर की ये दिशा अत्यधिक शुभ होती है. ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, इस दिशा में देवी देवताओं का वास होता है. ऐसे में इस दिशा से जुड़ी हर बात न सिर्फ एक अलग अहमियत रखती है बल्कि इसका घर के सभी सदस्यों पर भी अहम प्रभाव पड़ता है. माना जाता है कि घर की ईशान कोण दिशा में कुछ चीजों का रखा जाना भयंकर तंगी को बुलावा देता है. इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि कौन सी वस्तुओं को ईशान कोण में रखना चाहिए और कौन सी वस्तुओं को रखने से बचना चाहिए. साथ ही, इस दिशा से जुड़े नियमों के बारे में भी जानेंगे.
– देवी देवताओं का स्थान होने के कारण कभी भी घर की ईशान कोण दिशा में टॉयलेट नहीं होना चाहिए. इस दिशा में शौचालय या गंदगी का होना घर के सदस्यों को भयंकर बीमारी कि चपेट में ला सकता है.
– घर बनवाते वक्त इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि ईशान कोण में बेडरूम न रखें. अगर आपने ऐसा किया है तो फौरन अपना बेडरूम शिफ्ट कर लें. क्योंकि इस दिशा में बेडरूम का होना पति पत्नी के बीच कलह का कारण बनता है और वैवाहिक जीवन में खटास आने लगती है.
– ईशान कोण में भारी चीजों का रखना अशुभ माना जाता है. क्योंकि भारी वस्तु घर में पॉजिटिव एनर्जी को कम कर नेगटिविटी को बढ़ाती है. साथ ही, ईशान कोण में भारी वस्तु का होना आपको बदहाली और कर्ज के नीचे दबा सकता है.
– घर के ईशान कोण में तुलसी का होना शुभता का संकेत है. तुलसी का पौधा न सिर्फ घर में सकारात्मकता लाता है बल्कि घर को बुरी शक्तियों के प्रभाव से भी बचाता. इसके अलावा, ईशान कोण में तुलसी का पौधा लगाने से माँ लक्ष्मी की भी कृपा बनी रहती और कभी भी आर्थिक समस्या उत्पन्न नहीं होती है.
– ईशान कोण में पूजा स्थल का होना शुभता का सर्वोच्च सूचक है. इस दिशा में पूजा स्थल होने से घर का वातावरण शुद्ध और शांतिमय बना रहता है.

Check Also

इस मंदिर में चलता है सोलह दिनों तक नवरात्र का त्यौहार

Getting your Trinity Audio player ready... नई दिल्ली। शारदीय नवरात्र शुरू हो चुके हैं, पूरा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *