Breaking News

जलभराव से प्रभावित क्षेत्रों में युद्धस्तर पर राहत सामग्री पहुंचायी जाये- सूर्य प्रताप शाही

Getting your Trinity Audio player ready...
कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही को जिले में बाढ़ प्रभावित गांवो की जानकारी देते जिलाधिकारी जे.पी. सिंह।

लखनऊ/देवरिया। कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने आज जनपद देवरिया के विकास भवन के गांधी सभागार में जनपद के कुछ हिस्सों में आई बाढ़ की समीक्षा की। उन्होंने जलभराव से प्रभावित लोगों को राहत सामग्री उपलब्ध कराने व हर संभव सहयोग उपलब्ध कराने के लिए जिला प्रशासन को निर्देशित किया।
कृषि मंत्री ने कहा कि जलभराव से प्रभावित लोगों को पेयजल, खाद्य सामग्री आदि की असुविधा नहीं होनी चाहिए। राहत सामग्री का वितरण आवश्यकतानुसार ट्रैक्टर अथवा नाव से किया जाए। वर्तमान समय में 22 टीमें राहत सामग्री वितरण कार्य में लगीं हैं। जिन इलाकों में जलभराव के दृष्टिगत सुरक्षा की दृष्टि से विद्युत आपूर्ति बाधित है, वहां जनरेटर की व्यवस्था सुनिश्चित कर ली जाए। उन्होंने बताया कि जनपद में 45 गांव में राहत सामग्री पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। जलभराव प्रभावित गांव के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है। जनपद में ऐसे 73 स्थान चिन्हित किए गए हैं। कृषि मंत्री ने राहत व बचाव कार्य की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि जलभराव से प्रभावित होने वाले क्षेत्रों में युद्धस्तर पर राहत सामग्री का वितरण किया जाए। उन्होंने कहा कि जलस्तर में कमी आने के उपरांत संक्रामक रोगों के मामले अधिक संख्या में देखने को मिलते हैं। उससे निपटने की तैयारी अभी से करने के निर्देश दिए। मच्छर न पनपे, इसके लिए फॉगिंग की जाए। कृषि मंत्री ने तटबंधों की जानकारी भी ली। उन्होंने कहा कि समस्त तटबंधों की पेट्रोलिंग की जाए। बंधों को किसी भी दशा में टूटने न दिया जाए। कृषि मंत्री ने सीएमओ को जलभराव प्रभावित क्षेत्रों में विशेष स्वास्थ्य कैंप लगाने के लिए निर्देशित किया। साथ ही मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को इन क्षेत्रों में पशुओं के लिए हरे-चारे की उपलब्धता एवं गो-वंशों के टीकाकरण के लिए निर्देशित किया।

Check Also

वृहद वृक्षारोपण अभियान के लिए विभागों ने कसी कमर

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *