Breaking News

हवन पूजन और तहरी भोज के साथ सुदर्शन समाज कल्याण समिति ने मनायी देव दिवाली

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ। कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर सुदर्शन समाज कल्याण समिति ने राजधानी के कुडिय़ाघाट पर हर साल की तरह इस साल भी दीपदान हवन-पूजन और तहरीभोज का आयोजन किया। इस अवसर पर सिर्फ सुदर्शन समाज के लोग ही नहीं बल्कि स्थानीय नागरिकों समेत बड़ी संख्या में समाज के सभी वर्गों के लोगों ने भाग लिया।
कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर बीते दिनों पूर्व निश्चित कार्यक्रम के अनुसार समिति पदाधिकारी निश्चित समय पर घाट पर पहुंच गए और वहां सबसे पहले सफाई अभियान चलाया। इसके पश्चात समिति के पदाधिकारियों ने वैदिक विधि-विधान से हवन एवं पूजन कार्यक्रम संपन्न किया।

इस दौरान समिति के लोगों के साथ ही स्थानीय लोगों ने भी हवन-पूजन आदि कार्यक्रम में बढ़चढ़ कर भाग लिया। तत्पश्चात समिति के पदाधिकारियों ने कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर मां गोमती की आरती उतारी। इसके बाद बड़ी संख्या में मौजूद लोगों ने दीपदान किया। इसके बाद तहरीभोज का आयोजन किया। जिसमें बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया। समिति के पदाधिकारियों ने बताया कि समिति की ओर से प्रति वर्ष कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर इस तरह का आयोजन किया जाता रहा है। इतना ही नहीं समिति की ओर से समय-समय पर विभिन्न प्रकार के सामाजिक और धार्मिक आयोजन होते रहते हैं। इन आयोजनों के पीछे समिति की मंशा यह है कि इस तरह के आयोजन करने से एक ओर जहां युवा पीढ़ी में सांस्कृति विरासत का बीजारोपण होता है तो वहीं दूसरी ओर इस भागदौड़ भरी जिंदगी में समाज के सभी तबके लोग एक साथ इस तरह के अवसरों पर एकत्रित होते हैं। आपको बताते चलें कि सुदर्शन समाज कल्याण समिति शिक्षा और समाजिक उत्थान की दिशा में कार्य करती है। समिति की ओर गरीब बच्चों को पढ़ाने लिखाने के साथ ही गरीब और निराश्रित कन्याओं के विवाह आदि कराए जाते हैं। इस अवसर पर समिति के प्रमुख बनारसी लाला, अध्यक्ष नरेश, कोषाध्यक्ष संजय सिंह सुदर्शन, पवन, शिव प्रसाद व महेश सहित बड़ी संख्या मेें लोग मौजूद रहे।

Check Also

रैली निकालकर दिया मतदाता जागरूकता का संदेश

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ/उन्नाव,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः केंद्रीय संचार ब्यूरो, सूचना एवं प्रसारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *