Breaking News

यूनिटी कॉलेज के छात्रों ने नाटक के जरिए सरहद पर डटे सैनिकों की बयां की दास्तां

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आज यूनिटी कॉलेज के छात्रों ने देशभक्ति भक्ति की भावना से ओत-प्रोत सैन्य वेशभूषा में नाटक का जीवान्त मंचन किया गया। छात्रों ने अपनी नाट्य प्रस्तुति में लोगों तक यह संदेश देने का सफल प्रयास किया कि एक फौजी को अपने परिवार से कहीं ज्यादा मातृभूमि से प्यार होता है, और वह मातृभूमि की रक्षा के लिए सरहद पर युद्धघोष का ऐलान होते ही, अपने परिवार को छोड़ मातृभूमि की रक्षा के लिए निकल पड़ता है। छात्रों की इस प्रस्तुति पर स्वतंत्रता दिवस पर आये अतिथियों और अभिभावकों ने जमकर सराहना की। इसके साथ ही यूनिटी कॉलेज ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर तिरंगा यात्रा सहित विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया।

आज़ादी का अमृत महोत्सव के अन्तर्गत स्वतंत्रता दिवस के मौके पर यूनिटी कॉलेज में विविध प्रकार के कार्यक्रम किये गये, जिसमें सबसे पहले स्वाधीनता दिवस के अवसर पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ कॉलेज प्रशासन द्वारा ध्वजारोहण किया गया। इस अवसर पर यूनिटी कॉलेज सेंकेण्ड शिफ्ट के विद्यार्थियों द्वारा भारतीय सैनिकों की गौरव गाथा एवं एक फौजी की कठिन जीवन शैली, जिसमें सैनिक परिवार और सरहद की जिम्मेदारी को कैसे निभाता है, मातृभूमि की रक्षा, सैनिक के लिए सर्वोपरि है। इस संदेश को एक लघु नाटक के जरिए दर्शाया गया। वहीं पुराने लखनऊ की मुख्य सड़कों और चौराहों से तिरंगा यात्रा निकाल कर देशभक्ति का संदेश दिया, इस दौरान छात्रों और अध्यापकों ने अपने अपने हाथों में तिरंगा थाम कर देशभक्ति के गंगनचुंबी नारे लगाये, वहीं तिंरगा यात्रा में स्थानीय पुलिस भी सुरक्षा में तत्पर दिखी। इस अवसर पर यूनिटी कॉलेज की छात्रा फ़ातिमा अली ने देशभक्ति की भावना से ओतप्रोत अंग्रेजी में भाषण दिया, जिसे कार्यक्रम में अतिथियों और अभिभावकों द्वारा सराहा गया। यूनिटी कॉलेज सेंकेण्ड शिफ्ट के विद्यार्थियों द्वारा कवि रवीन्द्रनाथ टैगोर की सुप्रसिद्व कविता ‘‘माइंड विद्आउट फिअर’’, वरा फ़ातिमा द्वारा उर्दू में दी गयी स्पीच ने भी वाहवाही बटोरी। इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भूतपूर्व आईपीएस अधिकारी अहमद ख़ान और सीआरपीएफ के आफ़ताब ने बच्चों की हौसलअफजाई की। मुख्य अतिथि श्री खान ने कहा कि अगर हम राष्ट्र को अपने निजी हितों से ऊपर रखेगे तो इससे राष्ट्र और लोकतंत्र दोनों ही और मजबूत होगा। वहीं कॉलेज के सचिव नजमुल हसन रिज़वी ने सभी को स्वतं़त्रता दिवस की शुभकामनांए देते हुये कहा कि हमारा राष्ट्रीय ध्वज हमारी एकता एवं अखण्डता का प्रतीक है, जो हमें एकजुट रहने का संदेश देता हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षा का यही उद्देश्य है, जिसमें हम राष्ट्र की उन्नति में योगदान दे, उन्होंने व्यवसायपरक शिक्षा पर जोर देते हुये कहा कि इससे हम राष्ट्र निर्माण में अहम योगदान दे सकतें हैं। उन्होंने कहा कि देश की उन्नित में योगदान के लिए सबसे जरूरी है कि हम सब एक अच्छे नागरिक बने। संयुक्त सचिव डॉ एम तल्हा ने कहा कि आजादी के इन 75 वर्षों में हम सफलता के शिखर को छू रहे हैं। बेहतर शिक्षा के द्वारा हम अपने संविधान की रक्षा करें और राष्ट्र को मजबूत बनायें। मैनेंजिग कमेटी के सदस्य एवं निदेशक यूनिटी आईटीआई सैयद कर्रार असगर जैदी ने गांधी जी का हवाला देते हुए कहा कि हमें ब्रिटिश शासन से आजादी मिली है। भारत को निरक्षरता पिछड़ेपन और जाति व्यवस्था से मुक्त करने के लिए अभी बहुत काम बाकी है। उन्होंने मन की स्वतंत्रता और अज्ञानता पर जोर दिया। इसके साथ ही यूनिटी कॉलेज सेंकेड शिफ्ट की प्रधानचार्या सुश्री शबाना अहमद एवं अध्यापकगणों ने भी अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम का समापन करते हुए विद्यालय के प्रधानाचार्य फ्रांसिस केस्टीलीनो ने उपस्थित सभी अतिथिगणों, अध्यापकगणों एवं बच्चों को स्वतत्रंता दिवस की हार्दिक शुभकामनायें दी।

Check Also

रैली निकालकर दिया मतदाता जागरूकता का संदेश

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ/उन्नाव,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः केंद्रीय संचार ब्यूरो, सूचना एवं प्रसारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *