Breaking News

सीबीआई के छापों को लेकर सिसोदिया ने दिया यह बयान

Getting your Trinity Audio player ready...

नई दिल्ली। गुजरात में आम आदमी पार्टी लगातार भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर हमलावर है. आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को भावनगर में युवाओं के साथ शिक्षा और रोजगार विषय पर संवाद किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि मेरी गर्दन इमानदारी की है, ये किसी शिकंजे में नहीं फंसेगी. युवाओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद 12 लाख युवाओं को रोजगार मिला है. अब दिल्ली में पर्चे आउट नहीं होते.
आप नेता सिसोदिया ने कहा कि गुजरात के सरकारी स्कूल और कॉलेजों की हालत बहुत खराब है. इसमें सुधार की जरूरत है. यही स्थिति पहले दिल्ली में भी थी. वहां आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद परिस्थितियां काफी बदली हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली में अरविंद केजरीवाल ने युवाओं को रोजगार देने का काम किया है. गुजरात में भी खूब नौकरियां हैं, लेकिन यहां नौकरी देने वाले ही नहीं. यहां युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए कोई ठोस नीति नहीं है.
उन्होंने बताया कि वर्ष 2015 में जब दिल्ली में अरविंद केजरीवाल मुख्यमंत्री बने तो वहां भी ऐसे ही हालात थे. पता चला कि 2007 से यहां रिक्तियों के सापेक्ष भर्ती ही नहीं हुई है. इसलिए सभी विभागों में खूब वेकेंसी है. इन वेकेंसी को भरने के लिए ना तो कोई बात करने वाला है और ना ही सुनने वाला.
इस संबंध में दिल्ली भर्ती बोर्ड से पूछने पर बताया गया कि इन सभी वेकेंसीज को भरने में कम से कम 35 साल लगेंगे. लेकिन आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद इस दिशा में तेजी से काम हुआ है. अब तक करीब दस लाख युवाओं को प्राइवेट सेक्टर में नौकरी मिली है. वहीं करीब दो लाख युवाओं को सरकारी विभागों में समायोजित किया गया है. मनीष सिसोदिया ने युवाओं से संवाद करते हुए कहा कि यही पीड़ा तो गुजरात के लोगों की भी है. इससे बाहर आना होगा. यह काम आम आदमी पार्टी ही कर सकती है.
मनीष सिसोदिया ने कहा कि गुजरात में इन दिनों खूब पेपर लीक हो रहे हैं. दिल्ली में भी पहले पेपर लीक होते थे, लेकिन अब यह बीते दिनों की बात है. उन्होंने बताया कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार ने जिस दिन शपथ लिया था, उस दिन भी पेपर लीक हुए थे. पेपर लीक होने की यह घटना आखिरी घटना थी. पेपर लीक करने वाले सभी लोग अब भी जेल में हैं. अब दिल्ली में पेपर लीक नहीं होते.
उन्होंने युवाओं से आह्वान किया कि इस तरह की अव्यवस्था के खिलाफ एकजुट होने की जरूरत है. अब कुछ ऐसा करना होगा कि गुजरात में पेपर लीक होने की परंपरा खत्म हो. अब यहां भी कोई वैकेंसी पर कुंडली मारकर नहीं बैठे.
मनीष सिसोदिया ने कहा कि उनके ऊपर सीबीआई और ईडी की रेड हो रही है. यह सबकुछ अनायास नहीं है. बल्कि ऐसा इसलिए हो रहा है कि जनता का जोश हाई है. इस जोश को रोकने के लिए ही उनके ऊपर शिकंजा कसा जा रहा है. लेकिन उनकी गर्दन इमानदारी की गर्दन है. किसी ऐसे वैसे शिकंजे में नहीं फंसेगी.

Check Also

रैली निकालकर दिया मतदाता जागरूकता का संदेश

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ/उन्नाव,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः केंद्रीय संचार ब्यूरो, सूचना एवं प्रसारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *