Breaking News

श्रद्धा का हत्यारा आफताब कर रहा है रोज चौंकाने वाले खुलाासे, कोर्ट में कबूला कि श्रद्धा की हत्या

नई दिल्ली। श्रद्धा मर्डर केस में आज अफताब की पेशी वीडियो क्रांफे्रसिंग के माध्यम से हुई। इस दौरान आफताब ने जज से कहा कि जो कुछ भी हुआ वह गुस्से में हुआ। उसके कबूलनामे के पीछे उसकी चाल भी हो सकती है। शायद वह इसे गैर इरादतन हत्या का मामला बताकर सजा को कम करने की कोशिश कर रहा है। फिल्म गजनी के एक्टर की तरह अब वह भूलने की एक्टिंग कर रहे हैं. कहा है कि वह एक बार में सब कुछ याद नहीं रख सकता। 6 महीने पहले की बात है। आफताब से श्रद्धा के शरीर के अंगों, हथियारों आदि के बारे में पूछताछ की गई। सुरक्षा कारणों से आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए पेश किया गया। आफताब की सहमति पर कोर्ट की मुहर के बाद अब पॉलीग्राफ टेस्ट किया जा सकेगा। इसके बाद नार्को टेस्ट होना है।
आफताब ने आज कोर्ट में हत्या में प्रयुक्त हथियारों की लोकेशन के बारे में बताया। उसने जज से कहा कि मैं पुलिस को सहयोग कर रहा हूं. गुरुग्राम डीएलएफ फेज-3 की झाडिय़ों में आरी फेंकी है। चापड़ महरौली की 100 फुट सडक़ के कूड़ेदान में फेंका गया था। टीवी रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी ने दावा किया है कि उसने श्रद्धा की हत्या की है. उसने शव के अंगों को महरौली के जंगल व अन्य जगहों पर फेंक दिया था। पुलिस हत्या में प्रयुक्त आरी, हथौड़े, चॉपर व ब्लेड की तलाश कर रही है। आशंका है कि आफताब ने खोपड़ी और जबड़े को तोडऩे के लिए हथौड़े और कीलें खरीदी थीं।


पुलिस ने गोताखोरों की मदद से दिल्ली के मैदानगढ़ी के तालाब से हड्डियां बरामद की हैं. इसे जांच के लिए सीएफएसएल भेजा गया है। पुलिस उसी तालाब में सिर के हिस्से की तलाश कर रही है। इस बीच रिपोट्र्स में दावा किया जा रहा है कि आफताब के फ्लैट के बाथरूम से खून के धब्बे मिले हैं. श्रद्धा हत्याकांड में जांच अधिकारी के हवाले से रिपोट्र्स में कहा गया है कि कई हड्डियां मिली हैं. आफताब के वकील ने कहा कि पुलिस ने अदालत से कहा है कि वे आफताब को तालाब में ले जाएंगे जिसके बारे में उसने मौखिक जानकारी दी है.
जांच अधिकारी ने श्रद्धा के जबड़े की हड्डी मिलने का दावा किया है। यह बरामदगी 20 नवंबर को हुई थी. बाथरूम की टाइलों से खून के धब्बे के रूप में महत्वपूर्ण सुराग भी मिले हैं। किचन में भी हत्या के निशान मिले हैं। पुलिस का दावा है कि आफताब के घर से एक नक्शा बरामद हुआ है, जिसे उसने शव के टुकड़े रखने के लिए बनाया था. आफताब ने कई जगहों के बारे में बताया है, लेकिन उसने यह भी कहा कि वह रात को जाता था, इसलिए उसे ज्यादा याद नहीं रहता।
आज दिल्ली की अदालत ने आफताब की पुलिस हिरासत 4 दिन और बढ़ा दी है। दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि उसकी हिरासत बढ़ाने की मांग की गई थी क्योंकि जांच अभी जारी है। आरोपी की हिरासत चार दिन और दी गई है जिससे और सबूत जुटाने में मदद मिलेगी। आफताब (28) को दिल्ली पुलिस ने 12 नवंबर को महरौली में किराए के फ्लैट में श्रद्धा की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया था। पुलिस को कुल 14 दिन की हिरासत मिल सकती है। ऐसे में अगले 4 दिन पुलिस के लिए काफी अहम रहने वाले हैं। इस बीच आफताब से सारे राज निकालने होंगे।
पुलिस का दावा है कि आफताब ने श्रद्धा की गला दबाकर हत्या की है। इसके बाद शव को लगभग 35 टुकड़ों में काट दिया, जिसे लगभग तीन सप्ताह तक घर पर 300 लीटर के फ्रिज में रखा। आधी रात के बाद वह शव के टुकड़े फेंकने जाता था।
दिल्ली हाई कोर्ट ने श्रद्धा मर्डर केस की जांच दिल्ली पुलिस से सीबीआई को ट्रांसफर करने की मांग वाली जनहित याचिका आज खारिज कर दी। कोर्ट ने इसे पब्लिसिटी इंटरेस्ट लिटिगेशन करार दिया। अदालत ने याचिकाकर्ता पर जुर्माना भी लगाया लेकिन जुर्माना राशि निर्दिष्ट नहीं की। मुख्य न्यायाधीश सतीश चंद्र शर्मा और न्यायमूर्ति सुब्रह्मण्यम प्रसाद की पीठ ने कहा कि यह एक जनहित याचिका है और याचिका में एक भी वैध आधार नहीं है। याचिका में आरोप लगाया गया है कि जहां से शरीर के अंग बरामद किए गए वहां मीडिया और लोगों की मौजूदगी के कारण सबूतों से छेड़छाड़ की गई।

Check Also

डीपफेक केस में एफआईआर हुई दर्ज, रश्मिका मंदाना से जुड़ा है मामला

नई दिल्ली। साउथ एक्ट्रेस रश्मिका मंदाना के डीपफेक वीडियो मामले में दिल्ली पुलिस ने एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *