Breaking News

कोहरे ने लगाई रफ्तार पर ब्रेक, घरों से बाहर निकलने से बच रहे लोग

Getting your Trinity Audio player ready...

 

नई दिल्ली। पूरे उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। पंजाब, हरियाणा, यूपी, राजस्थान, दिल्ली से लेकर जम्मू-कश्मीर तक पर सर्दी का सितम देखने को मिल रहा है। ठंड के तेवर से आम जनजीवन पूरी से प्रभावित नजर आ रहा है।
देश की राजधानी दिल्ली और एनसीआर में कड़ाके की ठंड पड़ रही है, चारों तरफ घना कोहरा छाया हुआ है। कुछ स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से 10 डिग्री सेल्सियस तक नीचे दर्ज किया गया है। मौसम विज्ञानियों ने बताया कि उत्तर पश्चिम से मैदानों को पार कर आने वाली हवाओं की वजह से तापमान में गिरावट आने से गलन बढ़ी है और कोहरा छाया हुआ है। वहीं आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र ने पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लिए येलो और आरेंज अलर्ट जारी किया है। कई जिले शीतलहर से ठिठुर रहे हैं. ठंड को देखते हुए सात जिलों में एक जनवरी तक स्कूल बंद कर दिए गए हैं. वहीं कई जगह रात से ही कोहरा देखने को मिला।
वहीं सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी के कुछ हिस्सों में सुबह घने कोहरे के कारण दृश्यता घटकर 50 मीटर पर पहुंच गई थी, जिससे सडक़ और रेल यातायात प्रभावित हुआ। दिल्ली एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, पश्चिम उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान के कुछ हिस्सों में कोहरा छाया रहा। वहीं पंजाब के और राजस्थान के कुछ हिस्सों में दृश्यता शून्य रही, जबकि अंबाला, हिसार, अमृतसर, पटियाला, गंगानगर, चूरू और बरेली में दृश्यता घटकर 50 मीटर और उससे नीचे पहुंच गई. मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, इन क्षेत्रों में अगले कुछ दिनों तक कोहरा छाया रहेगा। दिल्ली की सडक़ों पर कोहरे की वजह से कम विज़िबिलिटी के कारण सडक़ों पर धीमी रफ्तार में गाडिय़ां चलती दिखाई दीं. आईटीओ चौराहे पर वाहन चालक गाडिय़ां की लाइट्स जलाकर वाहन चलाते दिखे।
रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि 10 ट्रेनें डेढ़ घंटे से साढ़े चार घंटे की देरी से चल रही हैं। स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष (मौसम विज्ञान एवं जलवायु परिवर्तन) महेश पलावत ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ की वजह से 25-26 दिसंबर को पहाड़ी इलाकों में ताजी बर्फबारी हुई है और पश्चिमोत्तर से ठंडी हवाएं मैदानों से होकर दिल्ली एनसीआर तक पहुंच रही हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ की वजह से आद्र्रता का स्तर बढ़ गया है और इसकी वजह से घना कोहरा छाया एवं सूर्य की रोशनी मद्धिम हुई और तापमान में गिरावट आई है।
देश के उत्तर और उत्तर पश्चिम के कुछ हिस्सों में कहीं घने और कहीं बहुत घने कोहरे की चादर छायी रही तथा दृश्यता घटने के कारण इन क्षेत्रों में ट्रेनों के आवागमन में भी देरी हुई। कई कस्बों और शहरों में तापमान में गिरावट के साथ क्षेत्र में भीषण शीत लहर चली। दिल्ली में घने कोहरे के कारण कुछ इलाकों में दृश्यता घटकर 50 मीटर रह गई, जिससे सडक़ और रेल यातायात प्रभावित हुआ। रेलवे के एक प्रवक्ता ने कहा कि 10 ट्रेन 1.45 से 3.30 घंटे तक की देरी से चल रही हैं। आईएमडी के अनुसार, अगले कुछ दिनों तक कोहरा छाया रहेगा।
कड़ाके की सर्दी से राजस्थान के अनेक इलाकों में जनजीवन प्रभावित हुआ है। राज्य के अनेक जिले इन दिनों कड़ाके की सर्दी की चपेट में हैं। शीतलहर के साथ-साथ घने कुहरे ने लोगों के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। मौसम विभाग के अनुसार दो दिनों में सबसे कम न्यूनतम तापमान फतेहपुर में शून्य से 1।5 डिग्री सेल्सियस नीचे जबकि चूरू में शून्य डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। इसी तरह न्यूनतम तापमान पिलानी मे 0।2 डिग्री, करौली में 0.5 डिग्री, सीकर में एक डिग्री, बीकानेर में 2.4 डिग्री, भीलवाड़ा में 2.7 डिग्री सेल्सियस, नागौर में तीन डिग्री, संगरिया में 4.4 डिग्री, सिरोही में 4.7 डिग्री, चित्तौडग़ढ़ में 4.7 डिग्री, बूंदी में 5.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे में भी घना कोहरा व पाला पडऩे का अनुमान है। हालांकि 28 दिसंबर से न्यूनतम और अधिकतम तापमान में हल्की बढ़ोतरी होने की संभावना है। विभाग के मुताबिक, 28 दिसंबर से राज्य में घने कोहरे में भी कमी आने की संभावना है। वहीं जनवरी के पहले सप्ताह में शीतलहर का दौर फिर शुरू होने की प्रबल संभावना है। शीतलहर और घने कोहरे से अनेक इलाकों में आम जनजीवन व यातायात प्रभावित हुआ है।
कश्मीर में न्यूनतम तापमान में कुछ बढ़ोतरी से लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिली, हालांकि अधिकतर जगह तापमान शून्य से नीचे ही रहा। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, दिसंबर के अंत तक घाटी में मौसम शुष्क रहने के आसार हैं। हालांकि, इस सप्ताह हल्की बारिश की संभावना है, लेकिन भीषण बारिश होने के कोई आसार नहीं है। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, जम्मू-कश्मीर में मौसम के अधिकतर शुष्क रहने की संभावना है। केंद्र शासित प्रदेश में 30 दिसंबर तक आमतौर पर बादल छाए रहने के साथ ही ऊंचाई वाले इलाकों में हल्की से मध्यम बर्फबारी की संभावना है।
पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में कड़ाके की ठंड रही और घना कोहरा छाया रहा। दोनों राज्यों में सोमवार को नारनौल सबसे ठंडा क्षेत्र रहा, जहां 2।4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। हरियाणा के हिसार में न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री सेल्सियस, अंबाला में 7.7 डिग्री सेल्सियस, करनाल में 6.8 डिग्री सेल्सियस, रोहतक में 6.6 डिग्री सेल्सियस, भिवानी में 5.5 डिग्री सेल्सियस और सिरसा में न्यूनतम तापमान 5.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दोनों राज्य की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में न्यूनत तापमान 7.4 डिग्री सेल्सियस रहा।

Check Also

वृहद वृक्षारोपण अभियान के लिए विभागों ने कसी कमर

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *