Breaking News

औद्यानिक खेती करके किसान अपनी आय को दुगुना करें-उद्यान मंत्री दिनेश प्रताप सिंह

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ। प्रदेश के उद्यान, कृषि विपणन, कृषि विदेश व्यापार एवं कृषि निर्यात मंत्री दिनेश प्रताप सिंह ने आज प्रतापगढ़ के बीएसएस एकेडमी फूलवारी में आयोजित एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना के अन्तर्गत कृषक गोष्ठी व प्रशिक्षण मेला कार्यक्रम का शुभारम्भ फीता काटकर एवं दीप प्रज्जवलन कर किया। इस अवसर पर मंत्री ने हाइटेक वेजिटेबल सिडलिंग प्रोडक्शन इकाई (मिनी सेन्टर ऑफ एक्सीलेन्स फार वेजीटेबल) राजकीय पौधशाला नारायनपुर एवं कृषि विज्ञान केन्द्र ऐंठू कालाकांकर का बटन दबाकर शिलान्यास किया। इस दौरान मंत्री ने बीएसएस एकेडमी में विभिन्न कृषकों द्वारा अपने उत्पाद के प्रदर्शनी की लगायी गयी प्रदर्शनी का अवलोकन किया एवं उसके सम्बन्ध में किसानों से जानकारी प्राप्त की।
इस अवसर पर मंत्री ने प्रतापगढ़ के कृषकों का आवाहन करते हुये कहा कि अपने बच्चों को पारम्परिक खेती पर आधारित न रखे उनको आसमान में उड़ने दें, बच्चे पाली हाउस की खेती करके ज्यादा से ज्यादा आमदानी प्राप्त कर सकते है क्योकि बच्चे जानते है कि किस जनपद में कौन सी खेती करने से आय दुगुनी बढ़ सकती है। प्रतापगढ़ के पावन मिट्टी पर लोग अच्छी खेती करके अपनी आय दुगुनी कर रहे है। किसान यदि तकनीकी ढंग से खेती करे तो अपनी आय में निरन्तर वृद्धि कर सकता है। उन्होने किसानों से कहा कि उद्यान विभाग में विभिन्न प्रकार की योजनायें संचालित है और सब्सिडी भी प्रदान की जाती है इसलिये अपने बच्चों को औद्यानिक खेती में लाये, निःसन्देह औद्यानिक खेती में अपार सम्भावनायें है जिनमें अधिक से अधिक आमदनी प्राप्त कर हम अपने को, अपने राज्य को और देश को आगे ले जा सकते है। प्रतापगढ़ आंवले के लिये जाना जाता है और आंवले से सम्बन्धित उद्योग लगाने के लिये किसान बिल्कुल निराश न हो केन्द्र एवं प्रदेश सरकार सदैव आपके साथ खड़ी है, प्रदेश सरकार आंवलें से सम्बन्धित उत्पादन हेतु सब्सिडी प्रदान करती है। प्रतापगढ़ के नौजवान आंवले से सम्बन्धित कोई भी उद्योग लगाकर स्वयं को, प्रतापगढ़ को एवं राज्य सरकार को आत्मनिर्भर बनाने में सहयोग कर सकते है। इसके अलावा प्रदेश सरकार फल, फूल, सब्जी एवं औषधि फसलों में भी किसानों को सहयोग प्रदान कर रही है। उन्होने उद्यान विभाग के सभी अधिकारियों, कर्मचारियों को निर्देशित किया गया है कि वह किसानों की चौखट पर जाये, चौपाल लगाकर योजनाओं के सम्बन्ध में जानकारी प्रदान करें जिससे उनकी आय में वृद्धि हो सके। मंत्री ने कहा कि प्रदेश स्तरीय आम महोत्सव जिस तरह लखनऊ में आयोजित किया जाता है की भांति जनपद प्रतापगढ़ में राज्य स्तरीय आंवला महोत्सव आयोजित किया जायेगा जिससे प्रतापगढ़ के अमृत फल आंवला के बागवानों कृषकों को अधिक से अधिक लाभ मिल सके। आंवला महोत्सव कार्यक्रम के लिए मंत्री ने निदेशक उद्यान लखनऊ को निर्देशित भी किया। कार्यक्रम के अन्त में पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष केशरीनाथ त्रिपाठी के निधन पर उनके आत्मा की शान्ति के लिये 02 मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। कार्यक्रम में जिला स्तरीय अधिकारी, उद्यान विभाग के मण्डलीय अधिकारी, उद्यान विभाग के अधिकारी एवं समस्त कर्मचारी तथा लगभग 500 कृषक उपस्थित रहे।

Check Also

एशिया-यूरोप के पर्यटक एक बार अवश्य करें बौद्ध स्थल का दर्शन- जयवीर सिंह

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रसी न्यूज )ः उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *