Breaking News

‘बहुत केयरिंग था आफताब’… अब वहशीपन की कहानी सुन शॉक में है नई वाली गर्लफ्रेंड

फताब ने जिस तरह से श्रद्धा की हत्या करके उसकी बॉडी के टुकड़े-टुकड़े करके जंगल में फेंक दिए, ये खबर सुनकर जैसे आज देशभर में हर कोई हैरान है तो जरा सोचिए इस दर्दनाक हत्याकांड के कुछ ही समय बाद आफताब के संपर्क में आई उसकी नई गर्लफ्रेंड, जो कत्ल के बाद आफताब के साथ छतरपुर केसी फ्लैट में मिलने आती थी. इस बात से बेखबर कि इसी फ्लैट में आफताब ने श्रद्धा की न केवल हत्या की बल्कि जब वो आफताब से मिलने आती थी, उस वक्त भी इस फ्लैट में श्रद्धा की बॉडी के कुछ पार्ट्स आफताब ने छिपाकर रखे हुए थे, जिससे वो अंजान थी. ये सब जानकर आफताब की दूसरी गर्लफ्रेंड  की क्या हालत होगी?

असल में जैसे-जैसे दिल्ली पुलिस ने आफताब की कुंडली खंगालनी शुरू की तो पुलिस को पता लगा कि आफताब तकरीबन 15 से 20 लड़कियों के संपर्क में अलग-अलग डेटिंग साइट्स के जरिए था. जांच में पुलिस को बंबल ऐप के जरिए एक ऐसी लड़की के बारे में जानकारी मिली, जो श्रद्धा की हत्या के करीब 12 दिन बाद यानी 30 मई को आफताब के संपर्क में बंबल ऐप के जरिए आई थी.

ये लड़की पेशे से साइकेट्रिस्ट है, जब पुलिस को पता लगा कि ये लड़की कत्ल के बाद से आफताब के संपर्क में थी तो इससे पुलिस ने पूछताछ की. आफताबकी इस दोस्त ने पुलिस को बताया कि आफताब के बिहेवियर से कभी ऐसा नहीं लगा कि उसकी मनोस्थिति खराब है. पूछताछ में आफताब की इस दूसरीगर्लफ्रेंड ने पुलिस को बताया कि इसकी आफताब से बातचीत मई महीने में बंबल ऐप के जरिए शुरू हुई और ये पहली बार आफताब के फ्लैट पर 12अक्टूबर को गई थी. आफताब ने इसे अपने छतरपुर फ्लैट पर बुलाया था और दोनों ने साथ में फ्लैट पर वक्त बिताया था.

आफताब की इस दोस्त ने बताया कि आफताब का स्वभाव इसे बिल्कुल नार्मल और बहुत ज्यादा केयरिंग लगा था. आफताब के पास कई तरह की वैरायटी के डियोड्रेंट और परफ्यूम का कलेक्शन रहता था और अक्सर इस दोस्त को परफ्यूम गिफ्ट भी दिया करता था. आफताब की इस दोस्त ने बताया कि आफताब बहुत ज्यादा सिगरेट पीता था. सिगरेट बनाता भी था, लेकिन अक्सर जल्द सिगरेट छोड़ देने की बात भी करता था और बहुत खुश रहता था.

पुलिस को दिए बयान में इस दोस्त ने पुलिस को बताया कि वो अक्टूबर के महीने में दो बार आफताब के फ्लैट पर आई थी, लेकिन उसे श्रद्धा की हत्या याघर में बॉडी पार्ट्स होने की हल्की सी भनक नहीं लगी. आफताब कभी भी डरा सहमा नजर नहीं आया. वो अक्सर अपने मुंबई के घर के बारे में बताता था. वो सितंबर में मुंबई गया था तो वहां के बारे में भी बताता था.

आफताब की दोस्त ने पुलिस को बताया कि आफताब अलग-अलग तरह के फूड का बहुत शौकीन था. अक्सर घर पर बाहर से अलग-अलग रेस्टोरेंट सेनवेज आइटम मंगाता था. रेस्टोरेंट में शेफ किस तरह से खाने को डेकोरेट करते हैं, इस बारे में अपने शौक को भी बताता था. आफताब ने अपनी इस दोस्त को एक फैंसी अंगूठी गिफ्ट की थी, जो सोने की नही थी, बल्कि आर्टिफिशल थी. ये अंगूठी आफताब ने 12 अक्टूबर को गिफ्ट के तौर पर इस नई दोस्त को दी थी. ये अंगूठी श्रद्धा की थी.

पुलिस ने जब आफताब की इस डॉक्टर दोस्त को बताया कि आफताब ने इसी फ्लैट में श्रद्धा का कत्ल किया और अक्टूबर तक घर में श्रद्धा के बॉडी पार्ट्सकभी फ्रीज तो कभी दोस्तों से छिपाने के लिए वो अलमारी में इन पार्ट्स को छिपाया करता था, ये सब सुनकर आफताब की ये दोस्त बेहद घबराई हुई है.आफताब की इस दोस्त ने पुलिस के सामने कहा कि उसे बहुत हैरानी हो रही है. जिस तरह आफताब इसकी देखभाल और चिंता करता था. इसे कभी नहींलगा कि आफताब इतने वहशी तरीके से किसी की जान ले सकता है.

पुलिस ने आफताब की इस दोस्त के पास से श्रद्धा की एक आर्टिफिशल रिंग बरामद की है. इस डॉक्टर के 161 के बयान, यानी पुलिस के सामने इसके बयानदर्ज किए हैं. जांच में पुलिस सूत्रों के मुताबिक, इस लड़की को वाकई आफताब ने भनक नहीं लगने दी कि इस फ्लैट में आफताब ने हत्या की है और इसकेसस्त का किसी तरह का कोई रोल सामने नहीं आया है, बल्कि पुलिस इसे विक्टिम के तौर पर लेकर चल रही है.

Check Also

डीपफेक केस में एफआईआर हुई दर्ज, रश्मिका मंदाना से जुड़ा है मामला

नई दिल्ली। साउथ एक्ट्रेस रश्मिका मंदाना के डीपफेक वीडियो मामले में दिल्ली पुलिस ने एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *