Breaking News

क्या आप परेशान हैं नींद न आने की समस्या तो यह खबर आपके लिए है

Getting your Trinity Audio player ready...

नई दिल्ली। भोजन के बिना जीवन की कल्पना करना असंभव है। हम जो कुछ भी खाते हैं वह शरीर को ताकत दे सकता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ा सकता है। वैसे तो कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ भी होते हैं, जो नींद में खलल और मानसिक तनाव के कारण भी बन सकते हैं। हैरानी की बात यह है कि खाने से तनाव बढ़ता है। अब ये कंफ्यूजन बना रहता है कि क्या खाएं और क्या नहीं. क्या आप अनिद्रा और तनाव का सामना कर रहे हैं तो आप एक खास तरह के ट्रेंडिंग डाइट साइकोबायोटिक को फॉलो कर सकते हैं। आइए आपको इसके बारे में बताते हैं:


दरअसल, इस डाइट को लेकर एक स्टडी सामने आई है, जिसकी रिपोर्ट मॉलिक्यूलर साइकियाट्री में प्रकाशित हुई है. बताया गया है कि कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं जो मूड को प्रभावित करते हैं और इन्हें साइकोबायोटिक आहार माना जाता है। स्टडी में 18 से 59 साल के 45 लोगों पर रिसर्च की गई। ये दो समूहों में विभाजित थे। एक समूह को इस विशेष आहार का पालन करने के लिए कहा गया, जबकि दूसरे समूह को सामान्य भोजन से युक्त नियमित आहार का पालन करने के लिए कहा गया।
रिपोर्ट के अनुसार, ‘साइकोबायोटिक डाइट’ में भाग लेने वालों ने अधिक ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन किया जो फाइबर में कम और प्रीबायोटिक और किण्वित खाद्य पदार्थों में उच्च हैं और मानसिक स्वास्थ्य पर सीधा प्रभाव डालते हैं। शोध से पता चला कि जो लोग इस प्रकार के आहार का पालन कर रहे थे, उनकी नींद की गुणवत्ता में सुधार दिखा। साथ ही तनाव में भी कमी आई।
शोधकर्ताओं के अनुसार इस प्रकार के आहार में माइक्रोबायोटा पर जोर दिया जाता है। इसमें आटा यानी अनाज, प्रीबायोटिक फल, सब्जियां और दालें शामिल हैं। ऐसी चीजों में फाइबर ज्यादा होता है। फाइबर के लिए सेब, केला या पत्ता गोभी जैसी चीजें खाई जा सकती हैं। इसके अलावा लोगों को मीठा खाना जैसे फास्ट फूड और सोडा ड्रिंक पीने से बचना चाहिए।

Check Also

प्रदेश में मोतियाबिंद के सबसे ज्यादा आपरेशन करने वाले चिकित्सक बने डा. कृष्ण प्रताप सिंह

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में जन्में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *