Breaking News

योगी ने भंग की हिन्दू युवा वाहिनी की सभी इकाइयां

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हिंदू युवा वाहिनी संगठन की सभी इकाइयों को भंग कर दिया है। इसके विघटन के बाद, इस संगठन की कोई इकाई नहीं रह जाएगी। हिंदुत्व और राष्ट्रवाद की विचारधारा वाले इस संगठन ने योगी आदित्यनाथ को फायर ब्रांड लीडर की पहचान दिलाने में अहम भूमिका निभाई है. इसे भंग करने का ऐलान सीएम योगी आदित्यनाथ के दो दिवसीय गोरखपुर दौरे के बीच किया है. इस बीच प्रदेश प्रभारी राघवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि जल्द ही इकाइयों का पुनर्गठन किया जाएगा. उन्होंने बताया कि लंबे समय से संगठन में इकाइयों का पुनर्गठन नहीं हुआ है. इसके लिए उन्हें भंग कर दिया गया है।

इस फेरबदल के पीछे की योजना संगठन को नई ऊर्जा से भरने की बताई जा रही है। कहा जा रहा है कि हिंदू युवा वाहिनी मिशन-2024 से पहले पूर्वी से लेकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश तक नए कार्यकर्ताओं की नई टीम बनाने की तैयारी कर रही है. हिंदू युवा वाहिनी वह संगठन है जिसकी नींव खुद योगी आदित्यनाथ ने रखी थी। इसकी शुरुआत करीब 20 साल पहले गोरखपुर में हुई थी। खुद योगी आदित्यनाथ का भी गोरखपुर से गहरा नाता रहा है. वे गोरखपुर मठ के महंत हैं और वहीं से सांसद भी चुने गए थे। योगी आदित्यनाथ का अध्यात्म की दुनिया से राजनीति में प्रवेश गोरखपुर और यहां बनी हिंदू युवा वाहिनी से ही संभव हुआ। हिंदू युवा वाहिनी की स्थापना वर्ष 2002 में योगी आदित्यनाथ ने सांसद के रूप में की थी। 2022 के चुनाव में वाहिनी ने बीजेपी उम्मीदवारों के पक्ष में पूरी ताकत से प्रचार किया. युवा वाहिनी पिछले चुनाव में भी काफी सक्रिय थी।

Check Also

दुग्ध संघों के सुदृढ़ीकरण के लिए 13.33 करोड़ रूपये जारी

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)। उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में डेयरी विकास के लिए दुग्ध संघों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *