Breaking News

श्रद्धा मर्डर केस: पुलिस को गुमराह कर रहा आफताब, नार्को टेस्ट की तैयारी

Getting your Trinity Audio player ready...

नई दिल्ली। देश के चर्चित श्रद्धा मर्डर केस में पुलिस लगातार आफताब से पूछताछ कर रही है. क्योंकि आफताब जांच में सहयोग नहीं कर रहा है और पुलिस को गुमराह कर रहा है। इसलिए पुलिस अब उसका नार्को टेस्ट करा सकती है। इसके साथ ही पुलिस अभी तक श्रद्धा का सिर नहीं ढूढ पाई है, जिसकी तलाश अभी जारी है। जानकारी के मुताबिक मंगलवार को तलाशी अभियान के दौरान पुलिस को शव का एक टुकड़ा मिला, जिसे डीएनए टेस्ट के लिए भेज दिया गया है. माना जा रहा है कि 10 दिन के अंदर उसकी रिपोर्ट आ जाएगी।

पता चला है कि श्रद्धा की हत्या के बाद जब आफताब सिर नहीं ठिकाने लगा पा रहा था तो उसने श्रद्धा की खोपड़ी का मेकअप भी कर लिया था। हालांकि पुलिस ने अभी इसकी पुष्टि नहीं की है। बताया जा रहा है कि खुद आफताब ने अपने बयानों में इस बात को स्वीकार किया है, लेकिन पुलिस का कहना है कि आफताब इस तरह के बयान देकर खुद को पागल दिखाने की कोशिश कर सकता है. ताकि उसे कोर्ट का फायदा मिल सके। फिलहाल पुलिस घटना में शामिल हथियार व शरीर के अन्य अंगों की बरामदगी के संबंध में आफताब से पूछताछ कर रही है।
आपको बता दें कि महाराष्ट्र के पालघर की रहने वाली श्रद्धा मदान एक कॉल सेंटर में काम करती थीं। इस दौरान वहां उसकी आफताब अमीन पूनावाला से दोस्ती हो गई। बताया जा रहा है कि श्रद्धा को कॉल सेंटर में नौकरी के वक्त ही आफताब से प्यार हो गया था। श्रद्धा के परिवार का आरोप है कि उस समय श्रद्धा ने आफताब से शादी करने की जिद की, जिसका उन्होंने विरोध किया। आरोप है कि आफताब ने श्रद्धा के परिवार के सदस्यों को बाधक बनता देख उसे दिल्ली ले गया और महरौली इलाके में रहने लगा। आरोप है कि दिल्ली आने के बाद श्रद्धा ने आफताब पर शादी के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया, जिससे दोनों के बीच विवाद हो गया। घटना वाले दिन भी दोनों का शादी को लेकर झगड़ा हुआ था, जिसके बाद आफताब ने श्रद्धा की गला दबाकर हत्या कर दी और उसके शरीर के 35 टुकड़े दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में रख दिए।

Check Also

वृहद वृक्षारोपण अभियान के लिए विभागों ने कसी कमर

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *