Breaking News

इनकम टैक्स विभाग इस वक्त देश भर में सौ से अधिक स्थानों पर कर रहा है छापेमारी की कार्रवाई

नई दिल्ली। इनकम टैक्स विभाग ने बुधवार को देशभर में एक साथ 100 ठिकानों पर छापा मारा। ये कार्रवाई मिड-डे मील में कमाई, पॉलिटिकल फंडिंग में टैक्स चोरी और शराब घोटालों के सिलसिले में की गई है। दिल्ली, राजस्थान, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ और उत्तराखंड समेत 12 राज्यों में ढ्ढञ्ज के छापे जारी हैं। दिल्ली स्थित स्वतंत्र थिंकटैंक सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च में भीे छापेमारी की है।
जयपुर के नजदीक कोटपूतली में राजस्थान के गृह राज्यमंत्री राजेंद्र यादव की पार्टनरशिप वाली फैक्ट्री पर आयकर विभाग की टीम छापेमारी के लिए पहुंची। जयपुर के नजदीक कोटपूतली में राजस्थान के गृह राज्यमंत्री राजेंद्र यादव की पार्टनरशिप वाली फैक्ट्री पर आयकर विभाग की टीम छापेमारी के लिए पहुंची। राजस्थान के राज्यमंत्री राजेंद्र यादव और उनके रिश्तेदारों के 53 से ज्यादा जगहों पर इनकम टैक्स की रेड पडी है। बुधवार सुबह करीब साढ़े 5 बजे से छापा चल रहा है। मामला मिड डे मील की सप्लाई में गडबडी से जुडा है। कोटपूतली में मिड डे मील का राशन सप्लाई करने वाली जिस फैक्ट्री में छापेमारी हुई है, वह राजेंद्र यादव की बताई जा रही है। उनके जयपुर स्थित सरकारी और निजी आवास के अलावा कुछ ठिकानों पर टीमें मौजूद हैं। मिड-डे मील मामले में ही इनकम टैक्स की टीमों ने महाराष्ट्र में कई ठिकानों पर छापा मारा है। ये छापे कहां-कहां पड़े हैं, यह जानकारी अभी साफ नहीं हो पाई है।
छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में कारोबारी के घर पर भी इनकम टैक्स की कार्रवाई जारी है। छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में कारोबारी के घर पर भी इनकम टैक्स की कार्रवाई जारी है। छत्तीसगढ़ में कुछ शराब कारोबारियों के यहां छापा मारा है। इनमें एक शराब कारोबारी का नाम अमोलक सिंह बताया जा रहा है। रामदास अग्रवाल, उनके बेटे अनिल, एश्वर्या किंगडम के आरके गुप्ता के घर रेड मारी गई है। ये मामला शराब घोटाले और टैक्स चोरी से जुड़ा है।
टीम यूपी के 24 शहरों में छापेमारी कर रही है। राजधानी लखनऊ में टीम बुधवार सुबह राष्ट्रीय क्रांतिकारी समाजवादी पार्टी चीफ गोपाल राय के घर पहुंची। गोपाल राय केंद्रीय लोक शिकायत और जांच संस्थान नाम से संस्था चलाते हैं। वह संस्था के चेयरमैन हैं। उनके घर कागजों की जांच चल रही है। मामला पॉलिटिकल फंडिंग और टैक्स चोरी से जुड़ा है।
रिपोर्ट्स के मुताबिक, बेंगलुरु में 20 से ज्यादा ठिकानों पर ढ्ढञ्ज की टीमें मौजूद हैं। मनीपाल ग्रुप पर भी कार्रवाई की गई है। ये सभी छापे इनकमटैक्स चोरी से जुड़े हुए हैं। ढ्ढञ्ज को इस संबंध में जानकारी मिली थी। टीमें अभी एक्शन के बारे में ज्यादा कुछ बता नहीं रही हैं।

दिल्ली स्थित स्वतंत्र थिंकटैंक सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च में भी छापेमारी की है। यह कार्रवाई हरियाणा, महाराष्ट्र और गुजरात में हो रही आयकर विभाग की छापेमारी से जुड़ी है। अभी गवर्निंग बोर्ड की चेयरपर्सन मीनाक्षी गोपीनाथ हैं। राजनीतिक वैज्ञानिक गोपीनाथ जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में प?ाती थीं और नई दिल्ली में लेडी श्रीराम कॉलेज की प्रिंसिपल रही हैं। इसकी प्रेसिडेंट और चीफ एग्जीक्यूटिव यामिनी अय्यर हैं।इसके बोर्ड मेंबर में पूर्व विदेश सचिव श्याम सरण और आईआईएम के प्रोफेसर रामा बिजापुरकर शामिल हैं। भाजपा सरकार के एक प्रमुख आलोचक और शिक्षाविद प्रताप भानु मेहता भी इस सेंटर के प्रमुख रह चुके हैं।
चीफ इलेक्शन कमिश्नर राजीव कुमार ने रेवेन्यू डिपार्टमेंट को लिखा था कि जो राजनीतिक दल बोगस फंड्स में शामिल हैं, उनके खिलाफ एक्शन लिया जाए। ये पार्टियां नियमों का पालन किए बगैर चंदा ले रही थीं। ढ्ढञ्ज विभाग के अनुसार 199 रजिस्टर्ड हैं, लेकिन गैर मान्यता प्राप्त 219 राजनीतिक पार्टियों ने 2019-20 में 608 करोड रुपए छूट का दावा ढ्ढञ्ज विभाग में किया था। लेकिन, चंदे की जानकारी आयोग को नहीं दी। ये नियमों का उल्लंघन है।

Check Also

कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल होगें अखिलेश यादव

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की तरफ से कल कांग्रेस और सपा के गठबंधन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *