Breaking News

पीएफआई के यूपी हेड वसीम से पूछताछ में मिले अहम सुराग

Getting your Trinity Audio player ready...

नई दिल्ली। लखनऊ के इन्द्रनगर से पापुलर फ्रंट आफ इंडिया के यूपी हेड वसीम की गिरफ्तारी के बाद उससे पूछताछ में कई अहम सुराग मिले हैं. पापुलर फ्रंट आफ इंडिया और उसके सहयोगी संगठन ने पूरे यूपी में गजवए हिन्द के अपने नारे को बुलंद करने के लिए सुरक्षित ठिकाने बना रखे थे, जहां सुरक्षा एजेंसियों को भनक तक न लग सके. पापुलर फ्रंट आफ इंडिया ने यूपी में अपने मंसूबो को कामयाब करने के लिए कितनी पुख्ता प्लानिंग की थी कि इसका अंदाजा लगाना भी सुरक्षा एजेंसियों के लिए मुश्किल था लेकिन पीएफआई के यूपी कमांडर वसीम की गिरफ्तारी के बाद एक के बाद एक चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं.

सबसे पहले आपको बताते हैं कि आखिर पापुलर फ्रंट आफ इंडिया अपने नापाक मसूबों को कामयाब करने के लिए किस तरह जगह का चयन करता था. पापुलर फ्रंट आफ इंडिया का मकसद था की जब उसकी बैठक हो तो बेहद सुरक्षित जगह पर हो. इसलिए वो भीड़भाड़ वाली जगह का चयन करता था. मीडिया में आ रही खबरों की मानें तो एक होटल में होने वाली मीटिंग में कौन-कौन होता था. एआइआइसी, पापुलर फ्रंट आफ इंडिया (पीएफआइ), सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी आफ इंडिया (एसडीपीआइ) इस बैठक में शमिल होते थे. जिसमें मौजूद वरिष्ठï सदस्य बैठक से जुड़े सदस्यों को कट्टरता का पाठ पढ़ाते थे। वरिष्ठï सदस्य बताते थे कि इस्लाम खतरे में है, मौला को तुम्हारी जरूरत है यह गैर मुस्लिम धर्म वाले (काफिर) हमारे समाज को नष्ट करने पर तुले हैं। इन काफिरों को बरगलाओ, मदद का आश्वासन दो, आर्थिक मदद करो, डराओ कुछ भी करो, इनके धर्म परिवर्तन कराओ। पांच दिन की रिमांड पर पूछताछ के दौरान मोहम्मद अहमद बेग ने भी यह जानकारी खुफिया एजेंसियों के अफसरों को दी कि लखनऊ में लाटूश रोड स्थित एक होटल, कैंट रोड स्थित एक इमारत में और कई अन्य स्थानों में इस तरह की यह लोग बैठकें करते थे।

Check Also

रैली निकालकर दिया मतदाता जागरूकता का संदेश

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ/उन्नाव,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः केंद्रीय संचार ब्यूरो, सूचना एवं प्रसारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *