Breaking News

पश्चिम बंगाल में पत्थरबाजों का तांडव, दीदी जोड़ रहीं हाथ

Getting your Trinity Audio player ready...

कोलकाता। नुपूर शर्मा के विवादित बयान से उठा तूफान थमता नहीं दिख रहा है। अब इस विवाद की आग देश के कई हिस्सों में फैल गयी है। पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले के पंचला बाजार में शनिवार को प्रदर्शनकारियों के एक समूह ने पत्थरबाजी और हिंसा की. कोशिशों के बाद भी पुलिस पत्थरबाजों को नहीं रोक पाई इसी बीच पुलिस कर्मियों पर भी पत्थर बाजी की गई. ऐसे में अराजक तत्वों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस बल को आंसू गैस के गोले दागने पड़े. भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी को लेकर देश के अलग-अलग राज्यों में शुक्रवार से विरोध प्रदर्शन शुरू हुआ.
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हावड़ा के अधिकार क्षेत्र वाले उलुबेरिया-सब डिवीजन में राष्ट्रीय राजमार्गों, रेलवे स्टेशन और आसपास के इलाकों में सीआरपीसी की धारा 144 को 15 जून तक बढ़ा दिया गया है. गत शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद पश्चिम बंगाल के अलावा दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड, तेलंगाना सहित कई राज्यों में प्रदर्शन देखने को मिला है. इस दौरान पुलिस और पत्थरबाजों के बीच जमकर झड़प हुई. इस हिंसक प्रदर्शन के दौरान 2 लोगों की मौत हो गई. राज्य सरकार ने एहतियात के तौर पर हावड़ा जिले में शुक्रवार शाम को इंटरनेट ठप कर दिया था.
भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से पश्चिम बंगाल में पैरा मिलिट्री उतारने की मांग की है. भाजपा सांसद सौमित्र खान ने भी बंगाल में केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती की मांग की है.
इन सब से पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को हावड़ा में भडक़ी हिंसा और आगजनी के बाद प्रदर्शनकारियों से आम लोगों की सुविधा के लिए पश्चिम बंगाल में सडक़ें और रेलवे ट्रैक जाम नहीं करने की अपील की थी. उनका कहना था कि ‘मैं आपका दर्द और गुस्सा समझ सकती हूं. लेकिन मैं आपसे हाथ जोडक़र अपील करती हूं कि राज्य में सडक़ें और रेलवे ट्रैक जाम कर आंदोलन न करें. अगर मेरी हत्या करके भी आपका गुस्सा शांत होता है तो में उसके लिए भी तैयार हूं।

Check Also

रैली निकालकर दिया मतदाता जागरूकता का संदेश

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ/उन्नाव,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः केंद्रीय संचार ब्यूरो, सूचना एवं प्रसारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *