Breaking News

14 छात्रों ने हासिल किए 100 में से 100 अंक, फिर भी नहीं बने टॉपर

नई दिल्ली। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने सोमवार को जेईई (मेंस) के पहले सत्र का रिजल्ट घोषित कर दिया है. पहले सत्र में कुल 14 छात्रों ने शत प्रतिशत अंक यानी 100 में से 100 अंक हासिल किए हैं. हालांकि, अभी इन्हें टॉपर का खिताब नहीं मिला है. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के मुताबिक, जेईई (मेंस)- 2022 परीक्षा के दोनों सत्रों के बाद अभ्यर्थियों की रैंक बनाई जाएगी. जिन छात्रों ने 100 फीसदी अंक हासिल किए हैं, उनमें हरियाणा के सार्थक माहेश्वरी, तेलंगाना के अनिकेत चट्टोपाध्याय, तेलंगाना के ही धीरज, आंध्र प्रदेश से कोय्यन्ना सुहास, झारखंड से कुशाग्र श्रीवास्तव, पंजाब से मृनाल गर्ग, असम की स्नेहा पारीक और राजस्थान से नव्या शामिल हैं. सौ फीसदी अंक हासिल करने वाले सबसे अधिक 4 छात्र तेलंगाना से हैं.
एनटीए की वरिष्ठ निदेशक (परीक्षा) डॉ. साधना पाराशर ने मीडिया से बताया कि परीक्षा प्रणाली को पारदर्शी बनाने के लिए परीक्षार्थियों द्वारा सत्यापन के लिए उत्तर कुंजी के साथ प्रश्न पत्र और दर्ज प्रतिक्रियाओं को वेबसाइट पर प्रदर्शित किया गया था. विषय विशेषज्ञों द्वारा सत्यापित करने के बाद संशोधित उत्तर कुंजी वेबसाइट पर प्रकाशित की गई थी. उन्होंने बताया कि बाकायदा एनटीए परिसर में एक कंट्रोल रूम खोला गया था, जहां भारत के सभी परीक्षा केंद्रों के लाइव कवरेज के निरीक्षण के लिए आभासी पर्यवेक्षकों को तैनात किया गया था. वहीं, परीक्षा के दौरान नकल को रोकने के लिए सीसीटीवी से लाइव निगरानी की गई. एनटीए ने दूरस्थ स्थान को लाइव देखने और एनटीए स्थित नियंत्रण कक्ष से सभी परीक्षा केंद्रों के सीसीटीवी सिस्टम की रिकॉर्डिंग की व्यवस्था भी की थी. उन्होंने बताया कि प्रति पाली में लगभग 35000 कैमरे लगाए गए थे.
नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने रिजल्ट जारी करने के साथ ही बताया कि परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों द्वारा मोबाइल नेटवर्क का उपयोग कर मोबाइल या किसी अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण के माध्यम से किए जाने वाले नकल को रोकने के लिए सभी केंद्रों पर जैमर लगाए गए थे. उन्होंने बताया कि सभी 14 पालियों की प्रति पाली में कुल लगभग 29000 जैमर लगाए गए थे. परीक्षाएं कोविड-19 संबंधी सावधानियों के साथ आयोजित की गई थी.
नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के मुताबिक परीक्षा पत्र 2ए (बीआर्क) और 2बी (बी प्लानिंग) के एनटीए स्कोर अगले कुछ दिनों में जारी किए जाएंगे. गौरतलब है कि जेईई मेंस में अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्र जेईई एडवांस की परीक्षा दे सकेंगे. जेईई एडवांस में अच्छी रैंक हासिल करने वाले छात्रों को देशभर के आईआईटी संस्थानों समेत देश के विख्यात इंजीनियरिंग संस्थानों में दाखिला मिलेगा.

Check Also

दुग्ध संघों के सुदृढ़ीकरण के लिए 13.33 करोड़ रूपये जारी

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)। उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में डेयरी विकास के लिए दुग्ध संघों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *