Breaking News

आखिर यूपी की इस बेटी ने आइएएस की नौकरी क्यों छोड़ी, कारण जान के रह जायेेगें हैरान

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः यूपीएससी परीक्षा को पास करना लगभग हर प्रतिभागी का सपना होता है। लेकिन अगर कोई इस कठिन परीक्षा कोे क्रेक भी कर ले बाद में जॉब छोड़ दे तो उसके पीछे कोई न कोई वजह जरुर से होती है। आज हम आपको एक ऐसी ही लड़की की कहानी बताने वाले है जिसने यूपीएससी की परीक्षा पास करने के बाद भी आईएएस की जॉब छोड़ दी। यह अफसर हैं अपाला मिश्रा। अपाला ने यूपीएससी सिविल सेवा 2020 की परीक्षा में 9वीं रैंक प्राप्त की थी। वह उस साल इंटरव्यू में सबसे अधिक अंक पाने वाली कैंडिडेट थीं। उनके इंटरव्यू में 275 में से 215 अंक आए थे। अपाला मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले की रहने वाली हैं। उनके पिता आर्मी में कर्नल रहे हैं, वहं उनकी मां दिल्ली विश्वविद्यालय में हिंदी की प्रोफेसर हैं। यूपीएससी की परीक्षा पास करने से पूर्व वह खुद डॉक्टर भी थीं। उन्होंने आर्मी कॉलेज से बीडीएस की डिग्री प्राप्त की है। इसके बाद उन्होंने यूपीएससी परीक्षा में बैठने का मन बनाया और जी जान से इसकी तैयारी में जुट गयी। उन्हें शुरूआती 2 प्रयासों में सफलता हाथ नहीं लगी, लेकिन उन्होंने मेहनत जारी रखी और तीसरे प्रयास में शानदार रैंक के साथ परीक्षा उत्तीर्ण की। लेकिन उन्होंने आईएएस की बजाए इंडियन फॉरेन सर्विसेज यानी आईएफएस को चुना। इसके पीछे की वजह बताते हुए अपाला मीडिया इंटरव्यूज में कहती हैं कि, यूपीएससी निकालने के बाद आपको अगले 30 वर्ष वही काम करना होता है, ऐसे में जरूरी है कि आप अपने पसंद का ही काम करें। उस काम के लिए आपके अंदर जूनून होना चाहिए। अपाला कहती हैं कि उनकी हमेशा से अंतर्राष्ट्रीय संबंधो में दिलचस्पी रही है, ये विषय पढ़ने पर उन्हें मजा भी बहुत आता था, ऐसे में उन्हें लगा कि वह अपनी इस रूचि का इस्तेमाल देश सेवा में भी कर सकती हैं, इसलिए उन्होंने आईएफएस पोस्ट चुनी। वह कहती हैं कि यह फैसला उनके लिए आसान नहीं था, शुरूआत में उन्हें काफी दुविधा थी, लेकिन सिविल सर्विसेज की तैयारी के दौरान जब उन्होंने इस सर्विस के बारे में और जाना तो उनकी दिलचस्पी इसमें बढ़ गई।

Check Also

मुख्य सचिव के व्याख्यान को सुन, एस आर ग्रुप के बच्चों का बढ़ा मनोबल

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ, (माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः लखनऊ मुख्य सचिव दुर्गा शंकर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *