Breaking News

तो इन कारणों से बनाया गया, प्रो0 पूनम टंडन को गोरखपुर विवि का कुलपति

प्रो0 पूनम टंडन को गोरखपुर विवि का नया कुलपति बनाये जाने के बाद बधाई देते कुलपति आलोक कुमार राय, कुलसचिव विनोद सिंह एवं प्रवक्ता दुर्गेश  श्रीवास्तव  व अन्य शिक्षकगण। 

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)। लखनऊ विश्वविद्यालय की भौतिक विज्ञान के अध्यक्ष व स्टूडेंट वेल्फेयर की डीन प्रो0 पूनम टंडन को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद में गोरखपुर विश्वविद्यालय में कुलपति बनाया गया है। उनके कुलपति बनाये जाने के आदेश जारी होते ही लखनऊ विश्वविद्यालय में जश्न जैसा महौल बन गया है। छात्र और शिक्षक हर कोई उनकों बधाई संदेश दे रहा है। उनको कुलपति बनाये जाने के आदेश जारी होने के बाद विवि के कुलपति आलोक राय, कुलसचिव विनोद सिंह सहित अन्य प्रशासनिक अफसरों ने बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। वहीं जानकारों का यह भी कहना है कि बीते महीनों गोरखपुर विश्वविद्यालय के वीसी और वहां के छात्र संगठनों के बीच उपजे विवाद से विश्वविद्यालय की छवि को काफी डेंट लगा है, जिसे डेमेज कंट्रोल करने के लिए उनको वहां का कुलपति बनाया गया है, क्योंकि प्रो0 पूनम टंडन जो कि लखनऊ विश्वविद्यालय में लम्बे समय से स्टूडेंट वेल्फेयर की डीन रही हैं, ऐसे में छात्रों के हितो और विवि प्रशासन कार्यो को ठीक ढंग से तालमेल बैठाना उनको खूब आता है, उनके कार्यकाल में कोई भी छात्र उनसे असंतुष्ट नहीं था। प्रो0 पूनम टंडन अपनी व्यवहार कुशलता और अनुसाशन के साथ नियमों को कड़ाई से पालन कराने के लिए जानी जाती हैं। यहीं कारण है कि मुख्यमंत्री के गढ़ में उनको कुलपति पद की जिम्मेदारी से नवाजा जा रहा है।

यंग साइंटिस्ट अवार्ड से सम्मानित हो चुकी हैं प्रो0 पूनम टंडन

प्रो0 पूनम टंडन

प्रोफेसर पूनम टंडन लखनऊ विश्वविद्यालय के भौतिक विज्ञान विभाग में 2006 से प्रोफेसर के पद पर कार्यरत है और लगभग 30 वर्षों से लखनऊ विश्वविद्यालय में शिक्षण कार्य कर रही है। इसके साथ ही राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय जनरल्स में उनके 250 से अधिक शोध पत्र प्रकाशित हो चुके हैं। उनके अधीन लगभग 40 छात्रों ने अपना पीएचडी वर्क पूरा किया है। प्रोफेसर पूनम टंडन ने कई अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के साथ काम भी किया है। लखनऊ विश्वविद्यालय में उन्होंने डीन स्टूडेंट वेलफेयर और डीन एकेडमिक्स जैसे पदों को सुशोभित कर रही हैं। वर्तमान में उपक्रम के महानिदेशक पद पर भी कार्य कर रही हैं। प्रोफेसर पूनम टंडन को यंग साइंटिस्ट अवार्ड, यूजीसी अवार्ड, फुल ब्राइट स्कॉलरशिप, हम बुल्ट अवार्ड और शिक्षक श्री सम्मान भी प्राप्त हो चुका है। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल एवं कुलाधिपति उत्तर प्रदेश समस्त विश्वविद्यालय श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने प्रोफेसर पूनम टंडन को दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय का कुलपति नियुक्त किया है। प्रोफेसर पूनम टंडन ने बताया कि दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय वर्तमान में नैक ए प्लस प्लस ग्रेड प्राप्त विश्वविद्यालय है। राज्यपाल के दिशा निर्देश में उनका लक्ष्य गोरखपुर विश्वविद्यालय को विभिन्न राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग में और बेहतर स्थान दिलाने का सर्वोत्तम प्रयास होगा।

प्रो0 पूनम टंडन को गोरखपुर विश्वविद्यालय में कुलपति बनाये जाने के बाद लखनऊ विश्वविद्यालय के शिक्षकों व प्रशासन के अधिकारियों में खुशी की लहर दौड़ गयी हर कोई प्रो0 टंडन को बधाई और शुभकामना संदेश दे रहा था। उनके कुलपति बनाये जाने के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने भी खुलकर अपने विचार व्यक्त किये।

कुलसचिव विनोद कुमार सिंह

कुलसचिव विनोद कुमार सिंह

लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलसचिव विनोद कुमार सिंह ने प्रो. पूनम टंडन को फूलों का गुलदस्ता देकर उनको बधाई दी। श्री सिंह ने कहा प्रो. पूनम का अकादमिक रेकॉर्ड बहुत ही उच्च रहा है साथ ही उन्हे प्रशासन का लंबा अनुभव है। उनका कुलपति चुना जाना लखनऊ विश्वविद्यालय के लिए गर्व का विषय है। श्री सिंह से गोरखपुर विश्वविद्यालय मे बीते महीनों छात्रों और कुलपति के बीच चल रहे विवाद को लेकर जब उनसे प्रश्न किया गया तो उन्होंने कहा वह उस विवाद को जल्द से जल्द समाप्त कर देंगी क्युकि छात्र कल्याण डीन के रूप उन्होंने लखनऊ विश्वविद्यालय मे बहुत ही अच्छी तरह अपनी जिम्मेदारी निभाई है।

परिक्षा नियंत्रक विद्यानंद त्रिपाठी

परिक्षा नियंत्रक विद्यानंद त्रिपाठी

लखनऊ विश्वविद्यालय के परिक्षा नियंत्रक विद्यानंद त्रिपाठी ने भी प्रो. पूनम टंडन को कुलपति बनाये जाने के लिए ढेरों शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि वह लखनऊ विश्वविद्यालय के महत्वपूर्ण स्तंभों मे से एक हैं वह बहुत ही अनुभवी और जुझारू महिला हैं वह अपने हर कार्य को बहुत ही निष्ठा से करती हैं इसी का ही परिणाम है कि राज्यपाल महोदया ने उन्हे ये महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौपी है और हमे पूरा विश्वास है वह गोरखपुर विश्व विद्यालय मे सुशासन तथा छात्रों और शिक्षकों मे समन्वय स्थापित कर लेंगी।

प्रो. दुर्गेश श्रीवास्तव

प्रवक्ता दुर्गेश श्रीवास्तव

लखनऊ विश्वविद्यालय के भूगोल के विभागाध्यक्ष एवं प्रवक्ता प्रो. दुर्गेश श्रीवास्तव ने कहा कि प्रो. पूनम टंडन को गोरखपुर यूनिवर्सिटी की कुलपति बनाये जाना हमारे विश्वविद्यालय के लिए गर्व का विषय है, श्री श्रीवास्तव ने कहा कि लखनऊ विश्वविद्यालय के कई शिक्षक विभिन्न विश्वविद्यालयो मे कुलपति के पद पर कार्य कर रहे हैं. प्रो. टंडन एक ख्याति प्राप्त शिक्षिका हैं उनके निर्देशन मे 40 से ज्यादा छात्रों ने पीएचडी की पढ़ाई पूरी की है। साथ ही साथ उन्हे प्रशासन का लंबा अनुभव है हम पूरी तरह से आश्वस्त हैं कि वह गोरखपुर यूनिवर्सिटी का संचालन सभी की अपेक्षा के अनुरूप करेंगी।

 

 

 

 

Check Also

कड़क प्रशासक एवं जनप्रिय अफसर के रूप में आज भी जाने जाते हैं, स्व. कैलाश नारायण पाण्डेय- आनंद उपाध्याय

लखनऊ,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)। सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी स्वर्गीय कैलाश नारायण पांडे की पुण्य तिथि के अवसर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *