Breaking News

राष्ट्रपति के हाथों पुरूस्कृत होंगी, आईएएस अधिकारी रौशन जैकब

Getting your Trinity Audio player ready...

लखनऊ। प्रधानमंत्री के डिजीटल इंडिया मुहिम को साकार करने वाली यूपी की महिला आईएएस अधिकारी रौशन जैकब को डिजिटल इंडिया आवार्ड्स के लिए चुना गया है। उन्होंने खनन विभाग में माइन मित्रा डिजिटल सिस्टम की शुरूवात की। इससे खनन विभाग की समस्त कार्य जैसे प्रवर्तन, उद्यमियों के लिए सुविधा, ओवरलोडिंग पर अंकुश लगाने जैसे कार्याे की सम्पूर्ण रूप से ऑनलाइन व्यवस्था की है। कह सकते हैं कि निदेशक रौशन जैकब ने यूपी में मौजूदा समय खनन विभाग में डिजीटल इंडिया का सपना पूरी तरह से साकार किया है। श्रीमती जैकब निदेशक खनन के अलावा वह मौजूदा समय लखनऊ शहर की मंडलायुक्त पद की भी जिम्मेदारी संभाल रही हैं।

आपको को बता दे कि राष्ट्रीय स्तर पर दिये जाने वाले डिजिटल इंडिया अवार्ड्स 2022 में उत्तर प्रदेश के भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग को उसकी डिजिटल पहल के नेशनल लेवल पर विजेता के रूप में चुना गया है। विभाग में व्यापार करने में आसानी के लिए डिजिटल पहल की श्रेणी में उत्तर प्रदेश में खनन प्रणाली में ‘माइन मित्रा‘ डिजिटल सिस्टम को डेवलप कर लागू करने के लिए प्लैटिनम एवार्ड से नवाजा जायेगा। यह पुरूस्कार खनन विभाग की निदेशक श्रीमती रौशन जैकब व टीम को आगामी 7 जनवरी को नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में आयोजित एक भव्य समारोह में राष्ट्रपति द्वारा प्रदान किया जायेगा। ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री के निर्देश व नेतृत्व से माइन मित्रा डेवलप करने में यह कामयाबी मिली है। भारत सरकार द्वारा सरकारी संस्थाओं एवं स्टार्टअप्स को प्रोत्साहित करने के लिए डिजिटल इंडिया अवार्ड्स-2022 के विजेताओं की घोषणा की गयी है। जिसके तहत ईज आप डूइंग बिजनेस कैटेगरी में उ० प्र० के भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग द्वारा ई-सर्विसेज, परिवहन प्रपत्र निर्गमन, सर्विलांस, मिनरल मार्ट इत्यादि व्यावसायिक गतिविधियों के संचालन में समय, लागत एवं प्रयासों को कम करके महत्वपूर्ण प्रभाव लाने के लिए विकसित किये गए ‘माइन मित्रा‘ पोर्टल को प्लैटिनम एवार्ड से सम्मानित किया गया है। इसी कैटेगरी में ओड़ि़सा राज्य के ई आबकारी को गोल्ड एवं पंजाब राज्य के इन्वेस्ट पंजाब को सिल्वर अवार्ड प्राप्त हुआ है। मुख्यमंत्री की मन्शा के अनुसार उनके कुशल कुशल दिशा निर्देशन में खनिज प्रक्रिया को पूरी पारदर्शी , सुगम व सुलभ बनाने के लिए खनिज विभाग की पूरी टीम द्वारा पिछले 3 साल में ढांचा तैयार किया गया और प्रत्येक अप्लीकेशन को विकसित माइन मित्रा का रूप दिया गया। जिसमें डिस्टल सिस्टम को लागू करने में सफलता हासिल हुई। जिसमें जन सुविधाओ, प्रवर्तन, उद्यमियों के लिए सुविधा,और यूपी मिनरल मार्ट एक छतरी के नीचे एक प्लेटफार्म से जोड़ा गया है। इसमें विभागीय टीम के अलावा तकनीकी सहयोग एन आई सी व यूपी डेस्को का प्राप्त हुआ।

Check Also

रैली निकालकर दिया मतदाता जागरूकता का संदेश

Getting your Trinity Audio player ready... लखनऊ/उन्नाव,(माॅडर्न ब्यूरोक्रेसी न्यूज)ः केंद्रीय संचार ब्यूरो, सूचना एवं प्रसारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *